Bageshwar News :ग्रामीण बैंक की शाखा में ताले तोड़ने का प्रयास,बैंक प्रबंधन के साथ ही पुलिस में मची खलबली

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। बागेश्वर के ग्रामीण बैंक की शाखा में चोरी का असफल प्रयास होने से बैंक प्रबंधन के साथ ही पुलिस में खलबली मच गई। द्वितीय शनिवार और रविवार के अवकाश के कारण लगातार दो दिन तक बंद बैंक सोमवार को खुला।

💠तब बैंक के ताले तोड़ने के प्रयास का पता चला। 

जानकारी के अनुसार सोमवार सुबह 9:30 बजे बैंक कर्मचारी कांडा रोड पर स्थित ग्रामीण बैंक शाखा को खोलने के लिए पहुंचे तो बैंक के शटर में लगा ताला नहीं खुला। ताले पर चोट के निशान थे। इसकी जानकारी शाखा प्रबंधक को दी गई। शाखा प्रबंधक एमएस रावत ने बताया कि ताले को किसी चीज से खोलने की कोशिश की गई थी। इसी वजह से ताले में चाबी नहीं लग पा रही थी। ताले पर चोट मारने के निशान थे। शाखा प्रबंधक ने इसकी जानकारी पुलिस को दी।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :ऑपरेशन स्माईल टीम व अल्मोड़ा पुलिस ने अपने परिजनों से बिछुड़कर धारानौला बाजार में भटक रहे नन्हे बालक को उसकी मां से मिलाया

कोतवाल केएस नेगी के नेतृत्व में पुलिस टीम मौके पर पहुंची। काफी प्रयास के बाद बैंक का ताला खुल पाया। वरिष्ठ उप निरीक्षक संजय बृजवाल के नेतृत्व में पुलिस टीम ने सीसीटीवी खंगाला। एसएसआई बृजवाल ने बताया कि सीसीटीवी में शुक्रवार तक की फुटेज खंगाल ली गई है, लेकिन कोई पता नहीं चला। मामले की पड़ताल जारी है। सीसीटीवी में ताला तोड़ने के प्रयास संबंधी किसी प्रकार के फुटेज न होने से मामला पेंचीदा हो गया है। ताले में आए चोट के निशान रहस्य बने हुए हैं। बहरहाल बैंक में किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ। यह राहत की बात है। संवाद

💠पड़ताल के चलते देरी से खुला बैंक

बागेश्वर। पड़ताल के चलते बैंक करीब डेढ़ घंटे की देरी से सुबह करीब साढ़े ग्यारह बजे खुल सका। सुबह से बैंक में कामकाज कराने आए ग्राहकों को इंतजार करना पड़ा। साढ़े ग्यारह बजे बाद बैंक का कामकाज शुरू हुआ।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :मानिला देवी पम्पिंग पेयजल योजना ठप्प पानी के लिए जनता में मची हाहाकार

💠नहीं हुआ जजी परिसर में हुई चोरी का खुलासा

बागेश्वर। बीते 27 अप्रैल को बागेश्वर के जजी परिसर में कर्मचारी आवास से हुई चोरी होने का मामला प्रकाश में आया था। पुलिस अब तक इस मामले का खुलासा नहीं कर पाई है। जजी परिसर में रहने वाले संजय प्रसाद टम्टा के सरकारी आवास से चोरों ने करीब 15 तोला सोने के जेवरात के साथ ही नकदी चुरा ली थी। संजय प्रसाद टम्टा दिल्ली में इलाज करा रहे हैं। उनका परिवार भी उन्हीं के साथ है। इसका फायदा उठाते हुए चोरों ने वारदात को अंजाम दिया। जजी परिसर जैसे अहम स्थान से हुई चोरी का खुलासा न होने से पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *