Uttarakhand News:ठंड में कांपते लोगों को देख सीएम ने रुकवाया काफिला,बढ़ती सर्दी देख जरूरतमंदों को ओढ़ाया कंबल

ख़बर शेयर करें -

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार देर शाम आईएसबीटी समेत शहर के अन्य इलाकों का औचक निरीक्षण किया। इसी दौरान उन्हें कुछ लोग ठंड में बिना कंबल के दिखाई दिए, जिसके बाद मुख्यमंत्री ने तुरंत माइक पर अधिकारियों कंबल लाने के निर्देश दिए और फिर जरुरतमंदो को कंबल बांटे।

अचानक से लोग मुख्यमंत्री को अपने बीच देख हैरान रह गए. सीएम पहुंचे तो थे विकास कार्यों का निरीक्षण करने के लिए थे, लेकिन जरूरतमंदों को ठंड में ठिठुरता देख उनसे रहा नहीं गया और उन्होंने अधिकारियों से कंबल मंगवा कर खुद अपने हाथों से लोगों को कंबल पहनाएं।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का ये अंदाज लोगों को काफी पसंद आ रहा है. हुआ ये कि मंगलवार की शाम को सीएम धामी आईएसबीटी और आसपास के इलाकों में विकास कार्यों का जायजा लेने के लिए निकले थे, इसी बीच अचानक उनकी नजर सड़कों के पास बैठे लोगों को पड़ी. कड़कड़ाती सर्दी के बीच इन लोगों के पास पहनने के लिए गरम कपड़े और कंबल तक नहीं थे, जिसके बाद सीएम धामी ने अचानक अपना काफिला रुकवा दिया और उनसे बातचीत की।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :आर्टिकल 370 देखने पहुंचे उत्तराखंड के मुख़्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

🔹अधिकारियों को दिए निर्देश

सीएम धामी को जब ये पता चला कि उनके पास गरम कपड़े और कंबल नहीं तो वो उन्होंने तत्काल अपने अधिकारियों से गरम कपड़े और कंबल लाने को कहा. अधिकारी जब कंबल लेकर वहां पहुंचे तो सीएम धामी ने खुद अपने हाथों से गरीबों को कंबल पहनाए और जरुरतमंदों को सामान बांटा. जिसके बाद मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को निर्देश जारी करते हुए कहा कि प्रदेश में शीतलहर का प्रकोप बढ़ने लगा है. इसे देखते हुए प्रदेश के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में पर्याप्त अलाव की व्यवस्था की जाए. 

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :उत्तराखंड बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं आज से शुरू,2 लाख 12 हजार परीक्षार्थी परीक्षा में होंगे सम्मिलित

मुख्यमंत्री नगर निगम एवं नगर पालिका क्षेत्रों में संचालित रैन बसेरों की व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश दिए तथा जरूरतमंदों के लिए जरूरी सामानों की व्यवस्था करने की भी आदेश जारी किए हैं. उन्होंने कहा कि ठंड के मौसम में सड़कों पर अपने दिन बिताने वाले लोगों के लिए मुश्किल का वक्त आन खड़ा हुआ है ऐसे में जरूरतमंदों की मदद करना सरकार का पहला दायित्व है. उन्होंने निर्देश दिए कि ठंड के मौसम में शीतलहर को देखते हुए शहरी व ग्रामीण इलाकों में अलाव की व्यवस्था की जाए तथा रैन बसेरे में पूरी तरह से लोगों के लिए ठहरने और रात बिताने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *