Uttrakhand News :उत्तराखंड भेजी जा रही तीन किलो अफीम के साथ दो आरोपी गिरफ्तार,झारखंड से ला रहे थे अफीम

ख़बर शेयर करें -

एसटीएफ ने झारखंड से बरेली होकर उत्तराखंड भेजी जा रही तीन किलो अफीम के साथ दो आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस को सौंप दिया। एसटीएफ बरेली यूनिट के डीएसपी अब्दुल कादिर को इस गिरोह के बारे में काफी पहले से सूचनाएं मिल रही थीं।

💠शनिवार दोपहर उन्होंने सेटेलाइट बस स्टैंड पर टीम लगाई। दो तस्कर एक बाइक से वहां पहुंचे तो टीम ने उनको दबोच लिया। उनकी बाइक की तलाशी ली तो तीन किलो अफीम, दो मोबाइल फोन और 900 रुपये बरामद हुए।

💠टीम इन्हें बारादरी थाने ले आई। यहां पता लगा कि मुख्य आरोपी आदित्य कुमार दांगी झारखंड के चतरा जिले के थाना इतखोरी अंतर्गत शहरजाम का निवासी है। वहीं दूसरा आरोपी मूलचंद्र मीरगंज के गांव सिंधौली का निवासी है। आदित्य ने बताया कि ये अफीम वह झारखंड के गांव खूंटी के सुमन नाम के शख्स से लाए थे। यहां सेटेलाइट बस स्टैंड पर उत्तराखंड के रुद्रपुर निवासी मनी और कुछ अन्य तस्करों को खेप देनी थी। इससे पहले ही वे पकड़े गए। दोनों तस्करों के खिलाफ बारादरी थाने में एफआईआर कराई गई है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :उत्तराखंड लोक सेवा आयोग पीसीएस 2024 की परीक्षा 14 जुलाई को दो सत्रों में किया जाएगा

💠हाईवे किनारे रुकने वाले ट्रक ड्राइवरों को गांजा बेचने के आरोपी को बिथरी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। एसपी सिटी राहुल भाटी ने बताया कि बिथरी क्षेत्र में हाईवे किनारे पुल के नीचे से जाते वक्त पुलिस ने भोजीपुरा थाने के गांव सैदपुर चुन्नीलाल निवासी सुल्तान रजा खां को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को उसके पास से 9.400 किलो गांजा मिला। सुल्तान ने बताया कि लखनऊ का तस्कर उसे हाईवे किनारे गांजा देकर जाता है। यहां वह पुड़िया बनाकर इसे ट्रक ड्राइवरों को बेचकर मुनाफा कमाता है। आरोपी को जेल भेजा गया है।