Uttrakhand News :निर्वाचन प्रशिक्षण के पहले ही दिन 22 विभागों के 64 कार्मिक अनुपस्थित,जिलाधिकारी ने दिए कार्रवाई करने के निर्देश

ख़बर शेयर करें -

लोकसभा चुनाव में भली-भांति जिम्मेदारियों का निर्वहन को लेकर केंद्र एवं राज्य कार्मिकों को ईवीएम व सैद्धांतिक निर्वाचन का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

💠प्रशिक्षण के पहले ही दिन 22 विभागों के 64 कार्मिक अनुपस्थित मिले। 

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिलाधिकारी सोनिका ने कड़ा रुख अपनाते हुए कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। पहले दिन 1,740 में से 1,676 कार्मिकों ने प्रशिक्षण लिया। देहरादून में कुल 10 हजार 600 कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

💠18-20 मार्च तक प्रथम चरण

सोमवार को कौलागढ़ स्थित उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद सभागार में जिला निर्वाचन की ओर से 18-20 मार्च तक प्रथम चरण का तीन दिवसीय ईवीएम एवं सैद्धांतिक निर्वाचन प्रशिक्षण शुरू किया गया है।

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिलाधिकारी सोनिका ने बताया कि प्रशिक्षण के पहले दिन अनुस्थित कार्मिकों के खिलाफ एफआइआर दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :10 मई को खोले जाएंगे विश्वप्रसिद्ध गंगोत्री धाम के कपाट,तीर्थयात्रियों के लिए पंजीकरण करना रहेगा अनिवार्य

कहा कि जिला निर्वाचन कार्यालय को केंद्र एवं राज्य के तकरीबन 20 हजार कार्मिकों की सूची उपलब्ध कराई गई थी। जिसमें से 10 हजार 600 को प्रशिक्षण में शामिल किया गया है। पहले चरण के तीन दिवसीय कार्यक्रम में 5,156 कार्मिकों को प्रशिक्षण में शामिल किया गया है।

कार्मिकों को लोकसभा चुनाव की जिम्मेदारियों की भली भांति निर्वहन को लेकर ईवीएम, मतदान प्रक्रिया, माक पोल, बूथ के कार्यों के बारे में विस्तार से बताया गया। पहले दिन दो सत्र में कार्मिकों को प्रशिक्षण के साथ ही संशय दूर किया गया।

💠न्यूनतम 55 माक पोल करने के निर्देश

मतदान शुरू होने से पहले पीठासीन अधिकारियों को न्यूनतम 50-55 माक पोल करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही समय पर मतदान प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए। इस दौरान प्रशिक्षण में मौजूद कार्मिकों को निर्वाचन प्रमाण पत्र देकर जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिलाधिकारी सोनिका ने सम्मानित किया।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News:आज अल्मोड़ा में आधे नगर की जलापूर्ति रहेगी ठप

💠इन विभागों के कार्मिक रहे अनुपस्थित

प्रशिक्षण के पहले दिन 22 विभागों के 64 कार्मिक अनुस्थित मिले। जिसमें से सबसे ज्यादा शिक्षा विभाग के 14, ओनएजीसी व बैंक के आठ-आठ, व्यापार कर के चार, केंद्रीय विद्यालय, आइटीबीपी व ग्राम्य विकास के तीन-तीन, लोक निर्माण विभाग, पालिटेक्निक, भविष्य निधि, जीएमवीएन, यूजेवीएसएल सिंचाई व सर्वे आफ इंडिया के दो-दो, सीबीए एयर फोर्स, बाल विकास, सिंचाई, जल संस्थान, नगर निगम, भू जल बोर्ड, अर्थ संख्या, एफआरआइ व कृषि विभाग से एक-एक कार्मिक अनुपस्थित मिले।

💠लोकसभा चुनाव की रूप रेखा

केंद्र एवं राज्य के विभागों की संख्या 800

जिले में कुल बूथ की संख्या तकरीबन 2000

पीठासीन अधिकारियों की संख्या करीबन 2000

वीवी पैड को बचाना होगा रोशनी से

लापरवाही बरतने पर होगी कड़ी कार्रवाई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *