Uttarakhand News:सिलक्यारा टनल हादसे के सफल रेस्क्यू आपरेशन पर श्रमिक संगठनों ने सीएम धामी का किया सम्मान,बताया सफलता का राज

ख़बर शेयर करें -

उत्तरकाशी के सिलक्यारा टनल हादसे के सफल रेस्क्यू आपरेशन के लिए प्रदेश के श्रमिक संगठनों ने सीए पुष्कर सिंह धामी का सम्मान करते हुए आभाार जताया। रविवार को सीएम आवास के मुख्य सेवक सभागार में आयोजित का मिलन सिलक्यारा कार्यक्रम में श्रमिकों ने कहा कि इस आपरेशन में सीएम ने जिस प्रकार गंभीरता से नेतृत्व किया, वो किसी मिसाल से कम नहीं।

🔹पीएम फोन पर अपडेट लिया करते थे

इस मौके पर धामी ने खुद को प्रदेश आम सेवक करार देते हुए सिलक्यारा आपरेशन की सफलता का श्रेय बाबा बौखनाग के आशीर्वाद और पीएम नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व को दिया। कहा कि, जिस दिन से यह हादसा हुआ था, उसी दिन से रोज पीएम फोन पर अपडेट लिया करते थे। टनल के भीतर फंसे श्रमिकों को बाहर निकालने के लिए जो भी आवश्यक था, पीएम ने तत्काल उसे उपलब्ध कराया।

🔹श्रमिकों का जताया आभार

पीएमओ की पूरी टीम ही सिलक्यारा भेज दी थी। सीएम ने सम्मान करने के लिए श्रमिकों का आभार जताते हुए कहा कि सही मायने में श्रमिक राष्ट्रनिर्माता हैं। केंद्र सरकार श्रममेय जयते ध्येय मंत्र के साथ काम कर रही है। श्रमिकों के हित के लिए कई योजनाएं शुरू की गई है। सीएम विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि अबसे पहले की सरकार भी गरीबी मिटाने की बात करती थीं।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :मार्च अंत तक प्रदेश के सरकारी विभागों के 15 साल से अधिक पुराने सभी 6 हजार वाहन कबाड़ में चले जाएंगे,प्रदेश में बनाए गए स्क्रैप सेंटर

लेकिन गरीबी तो नहीं मिटी, गरीब ही मिटते चले गए। योजनाएं कुछ खास लोगों को ध्यान में रखते हुए बनाई जाती थी। पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र और राज्य सरकारें श्रमिकों के हित के लिए योजनाएं बना और संचालित कर रहे हैं। जाति, धर्म, क्षेत्र, वर्ग के भेदभाव के बिना हर वर्ग के लिए पारदर्शिता के साथ योजनाएं बनाई जा रही हैं।

भारतीय मजदूर संघ के प्रदेश मंत्री सुमित सिंघल, टीयूसीसी के अध्यक्ष नवीन कुरील, ने कहा कि सिलक्यारा आपरेशन के दौरान सीएम धामी ने एक मिसाल स्थापित की। टनल में फंसे श्रमिकों की चिंता जताते हुए हर वक्त वो मौके पर डटे रहे और श्रमिकों का हौंसला बढाते रहे।

चौपाल लगाकर सुनेंगे श्रमिकों की समस्याएं, हल भी करेंगे

यह भी पढ़ें 👉  Almora News:गुस्साए आशा वर्कर्स ने सरकार से सरकारी कर्मचारी घोषित करने और उचित मानदेय देने की उठाई मांग

श्रम सचिव आर.मीनाक्षीसुंदरम ने कहा कि चुनौतीपूर्ण वक्त में ही कुशल नेतृत्व की पहचान होती है। सिलक्यारा टनल हादसे के रेस्क्यू आपरेशन में सीएम ने आगे आकर नेतृत्व का परिचय दिया। एक कल्याणकारी राज्य अपने नागरिकों के लिए कितना संवेदनशील होता है, यह सीएम धामी ने बताया है।

सुंदरम ने कहा कि सरकार श्रमिकों के कल्याण के लिए कई क्षेत्रों में काम कर रही है। जल्द ही प्रदेश में श्रमिक चौपालों का आयोजन होगा। इनमें श्रमिकों से बातचीत कर उनकी समस्याओं को जाना जाएगा और उनका त्वरित समाधान भी किया जाएगा। सभी श्रमिकों का ब्योरा भी तैयार किया जा रहा है।

🔹सिलक्यारा टनल हादसा:

12 नवंबर 2023 को उत्तरकाशी के सिलक्यारा में आलवेदर रोड परियोजना के तहत बन रही टनल भूस्खलन की वजह से बंद हो गई थी। इसमें 41 मजदूर भीतर ही फंस गए। 17 दिन तक चले मेगा रेस्क्यू अभियान के बाद सभी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। सिलक्यारा रेस्क्यू आपरेशन को एक आपदा प्रंबंधन के एक मॉडल आपरेशन के रूप में लिया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *