Uttarakhand News:किच्छा में अवैध मदरसे के संचालक को पुलिस ने दबोचा

ख़बर शेयर करें -

पुलभट्टा के सिरौलीकलां में चल रहे अवैध मदरसे के संचालक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। संचालक ने मदरसा के लिए देश के विभिन्न राज्यों में जाकर फंडिंग जुटाने की बात कबूली है।

🔹जाने मामला 

एसएसपी के अनुसार आरोपी की अवैध संपत्ति चिह्नित कर जब्त करने की कार्यवाही की जाएगी। गैंगस्टर एक्ट भी लगाया जाएगा। बुधवार को पुलिस कार्यालय में पत्रकार वार्ता में एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने बताया कि 15 अक्तूबर को पुलभट्टा पुलिस ने चारबीघा सिरौलीकलां में एक तीन मंजिला घर में अवैध मदरसा संचालित होता पकड़ा था।

🔹संचालक होगया था फरार 

मदरसे में एक अंधेरे कमरे में 22 बच्चियां और दो बच्चे बंद मिले थे और उनकी उम्र चार से 16 साल की थी।इसके बाद अल्पसंख्यक विभाग, बाल कल्याण समिति, एंटी ह्यूुमन ट्रैफिकिंग टीम को बुलाया गया। पुलिस को संचालक इरशाद नहीं मिला जबकि उसकी पत्नी खातून बेगम को गिरफ्तार कर लिया गया।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता में उत्तराखंड रहा अव्वल

🔹बच्चो ने करी दुर्व्यवहार की शिकायत

बच्चों ने मदरसे में घरेलू काम कराने, अच्छा खाना नहीं देने और दुर्व्यवहार करने की शिकायत की थी। मामले में मानव तस्करी सहित विभिनन धाराओं के अलावा बिजली चोरी का केस दर्ज किया गया। फरार संचालक की तलाश में विभिन्न जगहों पर दबिश दी जा रही थी। पुलिस ने सिरौलीकलां से मदरसा संचालक इरशाद को गिरफ्तार किया है। एसएसपी ने बताया कि आरोपी ने मदरसा संचालन के लिए विभिन्न राज्यों में जाकर बड़ी मस्जिदों और उद्योपतियों से फंडिंग लाने की बात कबूली है। उसने किन लोगों से फंडिंग ली है, इसकी जांच की जाएगी। 

यह भी पढ़ें 👉  Nainital News:गर्जिया मंदिर में कार्तिक पूर्णिमा मेले का आज होगा उद्घाटन, श्रद्धालुओं के लिए शटल बस सेवा शुरू

🔹एसआईटी का होगा गठन

एसएसपी ने बताया कि यह मामला गंभीर है। बच्चों को अच्छी पढ़ाई का सब्जबाग दिखाकर अमानवीय तरीके से रखा जाता था। मामले की गहराई से जांच के लिए एसआईटी का गठन किया जाएगा। आरोपी की ओर से अर्जित की गई संपत्तियों की भी जांच होगी।