Pithoragarh News:युवाओं को बर्ड वाचिंग का प्रशिक्षण दे रहा पर्यटन विभाग ,पांच दिवसीय कार्यशाला शुरू, रोजगार में मिलेंगे अवसर

ख़बर शेयर करें -

मोनाल संस्था और पर्यटन विभाग की पहल पर 5 दिवसीय बर्ड वाचिंग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जा रहा है।जिसमें जिले के युवक और युवतियों को बर्ड वाचिंग की ट्रेनिंग और पक्षियों की विभिन्न प्रजातियों और उनकी विशेषताओं से अवगत कराया जा रहा है।इसमें 20 प्रतिभागी हिस्सा ले रहे हैं।

बृहस्पतिवार को कार्यशाला का शुभारंभ डॉ. आरएस टोलिया और राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. हितेश कुमार जोशी ने किया।

उन्होंने कहा कि इस प्रकार के प्रशिक्षण कार्यक्रम से क्षेत्रीय जनमानस को रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे और स्थानीय जैव विविधता, भौगोलिक विरासत को सहेजने में भी मदद मिलेगी। जिला पर्यटन विकास अधिकारी कीर्ति चंद्र आर्या ने कहा कि प्रशिक्षण का उद्देश्य स्थानीय युवाओं को रोजगार के नवीन अवसर प्रदान करना है। 

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :धामी सरकार ने वित्त वर्ष 2024-25 के लिए 89,230.07 करोड़ रुपए का बजट किया पेश,उत्तराखंड को देश के सबसे अग्रणी राज्यों में शामिल कराने का लक्ष्य

प्रशिक्षण में छात्र-छात्राओं को प्रत्येक दिवस में स्थानीय पक्षियों, उनके हैबिटेट, प्राकृतिक वातावरण, पक्षियों के व्यवहार, क्रियाकलापों के विषय में जानकारी दी जाएगी। प्रशिक्षण अवधि में छात्र-छात्राओं को नंदादेवी, हरकोट, पातलथौड़, खलिया टॉप क्षेत्रों का भ्रमण कराया जाएगा। कार्यक्रम के संयोजक और मोनाल संस्था के अध्यक्ष सुरेंद्र पंवार ने कहा कि मुनस्यारी क्षेत्र में 300 से अधिक प्रजातियों के पक्षी पाए जाते हैं जो इस क्षेत्र की समृद्ध जैव विविधता तथा प्राकृतिक धरोहरों के संरक्षण को प्रदर्शित करते हैं। 

यह भी पढ़ें 👉  देश विदेश की ताजा खबरें बुधवार 28 फरवरी 2024

संचालन महाविद्यालय के कौशल विकास नोडल ऑफिसर डॉ. रवि जोशी ने किया। वहां प्रशिक्षक चंदन कुमार, पवन कोरंगा, डॉ. प्रदीप मंडल, डॉ. राहुल पांडेय, डॉ. रिफाकत अली, अमित कुमार टम्टा, दुर्गेश कुमार शुक्ला, डॉ. राजेंद्र राणा, बलवंत सिंह, डॉ. भागीरथी राणा आदि थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *