Pithoragarh News:आंगन में खेल रहे बच्चे को उठा ले गया खूंखार तेंदुआ, क्षेत्र में दहशत का माहौल

ख़बर शेयर करें -

यहां गंगोलीहाट के कोठेरा गांव में तेंदुए ने दो साल के बच्चे को अपना निवाला बना डाला। बच्चे का क्षत-विक्षत शव जंगल से आधे किलोमीटर दूर बरामद हुआ है।अस्पताल पहुंचाने पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।घटना से बच्चे की मां बेसुध हो गई है। वहीं पूरे क्षेत्र में दहशत है। दो वर्ष तीन माह का अंशु मां के साथ ननिहाल में रह रहा था। उसके पिता सुरेश हरिद्वार में नौकरी करते हैं।

🔹जाने मामला 

सोमवार शाम करीब चार बजे एक तेंदुआ आंगन में खेल रहे अंशु को अचानक उठा ले गया। कुछ देर बाद जब परिजन वहां पहुंचे तो उन्हें वहां खून दिखाई दिया। अनहोनी की आशंका में बच्चे की तलाश शुरू की गई। गांव के युवा निखिल, गिरीश कोठारी, अभिषेक और सुनील जंगल की ओर दौड़े। घर से करीब आधा किमी दूर जंगल में बच्चा घायल अवस्था में मिला।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :कोटद्वार पहुंची सीबीआई की वन कर्मियों से पूछताछ,मनी लांड्रिंग को लेकर भी की जा रही है जांच

🔹विभाग की टीम ने की गश्त शुरू

युवकों ने बताया कि उस समय बच्चे की सांस चल रही थी। आनफानन बच्चे को निजी वाहन से सीएचसी गंगोलीहाट लाया गया। वहां डॉ. मयंक पाहवा ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। 

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :जिले के विभिन्न हिस्सों में गर्मी बढ़ने के साथ ही गहराया जल संकट, ग्रामीण क्षेत्रों में पिकअप से पानी बांटकर पहुंचाई लोगों को राहत

इधर घटना की जानकारी मिलने के बाद वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर गश्त शुरू कर दी है।

🔹लोगो में दहशत 

रेंजर मनोज सनवाल ने बताया कि तेंदुए को पकड़ने के लिए मंगलवार को पिंजरा लगाया जाएगा। बता दें कि अगस्त और सितंबर में भी तेंदुओं ने गंगोलीहाट और बेड़ीनाग क्षेत्र में दो बच्चों को मार डाला था। एक बार फिर मासूम को निवाला बना लेने से लोग दहशत में हैं।