National News :एथेंस में पीएम मोदी ने किया बड़ा ऐलान,अब बेटियां ड्रोन पाइलट बनकर आधुनिक खेती में करेगी मदद

ख़बर शेयर करें -

ग्रीस की राजधानी एथेंस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते वक्त ग्रामीण महिलाओं को लेकर बड़ा ऐलान किया है। भारतीय समुदाय के लोगों से पीएम मोदी ने कहा कि भारत अपने गांव में रहने वाली बहनों को ड्रोन पायलट बनाने का बड़ा अभियान चलाने जा रहा है।

💠अब हमारे देश में गांव क्षेत्र की बहनें ड्रोन पायलट बनकर खेती में मदद करेंगी। इसके लिए उनको प्रशिक्षित किया जाएगा। ड्रोन पॉयलट की ट्रेनिंग हासिल करने के बाद इससे दवा छिड़कना, एक जगह से दूसरी जगह सामान पहुंचाना ये सब उनके बाएं हाथ का खेल होने वाला है। यानि अब कृषि के क्षेत्र में भारतीय बहनों का बड़ा रोल होने जा रहा है। अब वह भी कृषि में पुरुषों के कंधे से कंधा मिलाकर चलने का काम करेंगी।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :ब्लॉक भैसियाछाना के काफलीखेत निवासी लोकेश बिष्ट सीडीएस चयन के बाद आज आईएमए देहरादून से किया पासआउट

💠’हमारे किसान प्राकृतिक खेती की ओर आगे बढ़ रहे’

पीएम मोदी ने कहा कि भारत में हमने किसानों को 20 करोड़ से ज्यादा स्वैल हेल्थ कार्ड दिए हैं। उन्हें पता है कि खेत में किस प्रकार की खाद या बीज चाहिए, जमीन किस प्रकार की फसल के लिए उपयोगी है। यह सब जानकारी होने से अब वह ज्यादा फसल पैदा कर रहे हैं। हमारे किसान प्राकृतिक खेती की ओर आगे बढ़ रहे हैं। हमारे यहां एक जिला एक उत्पाद भी शुरू किया गया है। चाहे वह गुरुदास पुर का गुड़, निजामाबाद की हल्दी या अमृतसर का मुरब्बा हो। हर जिले के एक प्रोडक्ट को लक्षित कर हम उसका उत्पाद बढ़ा रहे हैं। इससे ग्रामीण लोगों की आजीविका और आय में वृद्धि हो रही है।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :एसएसपी अल्मोड़ा के निर्देंशन में वारंटियों की धरपकड़ जारी कोतवाली अल्मोड़ा पुलिस ने 01 वांरटी अभियुक्त को किया गिरफ्तार

💠किसानों को फसल के सीजन में की जा रही मदद

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज भारत जय जवान, जय किसान, जय विज्ञान और जय अनुसंधान पर काम कर रहा है। भारत में हमने किसानों के लिए एक योजना शुरू की है, जिसमें खेती के लिए किसानों को सरकार सीधे पैसा उनके बैंक एकाउंट में भेजती है। अब तक ढाई लाख करोड़ रुपये ट्रांसफर हुए हैं। इससे किसानों को खेती के समय अब बीज और खाद के लिए परेशान नहीं होना पड़ रहा। खेती के हर सीजन में नकद राशि सीधे उनके बैंक खाते में पहुंचाई जा रही है। इससे फसल उत्पादन से लेकर किसानों की आय में वृद्धि हो रही है।