Uttarakhand News:मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दर्पण समिति अल्मोड़ा संस्था को एसडीजी गोलकीपर अवार्ड से किया सम्मानित

ख़बर शेयर करें -

समस्त उत्तराखंड में सतत विकास के 17 लक्ष्यों को सुनिश्चित करने हेतु दर्पण समिति अल्मोड़ा लगातार प्रयासरत है जिसके लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के द्वारा एसडीजी 16 पर वर्ष 2022 एसडीजी गोलकीपर अवार्ड से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर पूर्व मुख्य सचिव एवं ज्यूरी के अध्यक्ष एन रविशंकर, सचिव आर.मीनाक्षी सुंदरम, यूएनडीपी की प्रतिनिधि इसाबेल त्सचान, सीपीपीजीजी के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. मनोज कुमार पंत उपस्थित थे।

🔹सतत विकास हेतु समिति अपना सहयोग प्रदान करती रही

बता दे की दर्पण समिति अल्मोड़ा द्वारा विगत 11 वर्षो से नुक्कड़ नाटक, डॉक्यूमेंट्री फिल्म, ग्राम पंचायत सदस्यों के प्रशिक्षण और प्रशासन द्वारा किए जा रहे कार्यक्रमों के जरिए प्रचार प्रसार किया जाता रहा है।और सतत विकास हेतु समिति अपना सहयोग प्रदान करती रही है।

🔹गोलकीपर के तौर पर संस्था कटिबद्ध 

समय समय पर संस्था विभिन्न सामाजिक मुद्दों और सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं को लोगो तक पहुंचती रही है और उनका प्रचार प्रसार और प्रशिक्षण का कार्यक्रम आयोजित करती रही है। संस्था द्वारा किए जा रहे उनके कार्यों और समर्पण साथ ही सरकार के गोलकीपर के तौर पर संस्था कटिबद्ध है।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News:एमबीपीजी कालेज में छात्रसंघ अध्यक्ष पर प्राथमिकी दर्ज होने से गुस्साए समर्थक छात्रों ने परिसर में जमकर किया हंगामा,विद्यार्थियों को खदेड़ते हुए गेटों को करा दिया बंद

🔹आत्मनिर्भर बनाने के साथ ही सतत विकास की ओर अग्रसर 

संस्था की सचिव विभु कृष्णा ने बताया कि दर्पण की पूरी टीम युवाओं द्वारा युवाओं और महिलाओं के विकास और नवाचार पर कार्य कर रही है और समाज और देश के विकास में इनको साथ में लेकर चलना अति आवश्यक है। इसीलिए समय समय पर गोष्ठियों, सेमिनार, प्रशिक्षण के जरिए इनको आत्मनिर्भर बनाने के साथ ही सतत विकास की ओर अग्रसर कर रही है।

🔹13 जनपदों के विजेता एवं उपविजेता घोषित किये जायेंगे

समिति की सचिव विभु कृष्णा ने बताया कि देहरादून में गोलकीपर अवार्ड केअवसर पर मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि वर्ष 2030 तक सतत विकास लक्ष्यों को पूर्ण करने के लिए जनपदों में प्रतियोगिता की भावना के दृष्टिगत इस वर्ष से ‘‘एस0डी0जी0 एचीवर ट्रॉफी’’ प्रदान की जायेगी जिसमें सभी 13 जनपदों के विजेता एवं उपविजेता घोषित किये जायेंगे।

🔹कई प्रतियोगिता का होगा आयोजन 

एस.डी.जी. को पंचायत स्तर तक क्रियान्वित करने के लिए वर्ष 2030 तक 17 सितंबर से 23 सितम्बर तक एस.डी.जी सप्ताह के रूप में मनाया जायेगा। जिसमें सभी विकासखण्डों, पंचायतों विद्यालयों, जनपदों एवं राज्य स्तर पर कार्यशालाएं, जन जागरूकता कार्यक्रम, वाद-विवाद प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :हवालबाग विकासखंड के ग्रामीण रेशम उत्पादन कर बनेंगे आत्मनिर्भर, 12 हेक्टयर भूमि पर नौ हजार रौपे जाएंगे पौंधे

🔹सबको समन्वित प्रयास करने होंगे

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि विकास के लक्ष्य को हासिल करने के लिये सभी को सम्मिलित रूप से प्रयास करने होंगे। आत्मनिर्भर उत्तराखण्ड बनाने के लिए सबको समन्वित प्रयास करने होंगे। बहुत सी संस्थाएं और व्यक्ति सामाजिक, आर्थिक व पर्यावरण के क्षेत्र में बेहतर काम कर रहे हैं। ये सभी राज्य के विकास के ब्रांड एम्बेसडर हैं।

🔹उत्तराखंड को अग्रणी राज्यों की श्रेणी में लाने के लिए करेंगे प्रयास 

विभु कृष्णा ने कहा की उत्तराखण्ड को श्रेष्ठ राज्य बनाने के लिये हम सभी को मिलकर आगे बढ़ना है। इकोलॉजी और इकोनॉमी में संतुलन बनाकर विकास जरूरी है। राज्य में सतत विकास लक्ष्य में बेहतर कार्य हो रहे हैं। एसडीजी इंडेक्स में उत्तराखंड को अग्रणी राज्यों की श्रेणी में लाने के लिए और प्रयासों की भी उन्होंने जरूरत बताई।

🔹यह लोग रहे मौजूद

इस अवसर पर समिति से संजय साह, सुरेंद्र जनौटी, कविता नेगी, धीरेंद्र सिंह रावत, सुहाना अहमद, आदि मौजूद रहे।