Almora News:अल्मोड़ा के यशराज बनें भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट, बेटे के कंधों पर माता-पिता ने लगाए स्टार

ख़बर शेयर करें -

बीते शनिवार देहरादून में हुई आईएमए की परेड में भारतीय सैन्य अकादमी से 343 युवा अफसर देश सेवा के लिए सेना की मुख्यधारा से जुड़ गए है। इस दौरान पहाड़ के एक और बेटे को देश की सेवा करने की एक बड़ी जिम्मेदारी मिली।बता दें, अल्मोड़ा जिले के यशराज सिंह खड़ाई भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बन गए है। यशराज की इस उपलब्धि से उनके परिवार समेत पूरे गांव में जश्न का माहौल है।

शनिवार को भारतीय सैन्य अकादमी देहरादून (आईएमए) में पासिंग आउट परेड में अल्मोड़ा के यशराज सिंह खड़ाई भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बन गए है। यशराज मूल रूप से सोमेश्वर के ग्राम बजेल, पोस्ट रनमन के रहने वाले हैं। उनके पिता मदन सिंह खड़ाई भारतीय सेना से कैप्टन के पद से सेवानिवृत्त हैं और मां उमा देवी एक कुशल गृहिणी हैं। अपने बेटे की इस उपलब्धि के साक्षी बनते हुए बेटे के कंधों पर पिता मदन सिंह खड़ाई और माँ उमा देवी ने सितारे लगाये। इस दौरान उनकी दोनों बहनें रजनी और पूजा भी वहां मौजूद रही।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :उत्तराखंड सहित उत्तर प्रदेश में बसे बंगालियों उपजातियों को मिलेगा अनुसूचित जाति का दर्जा

यशराज की प्राथमिक शिक्षा आनंद वैली स्कूल सोमेश्वर से हुई। उस दौरान पिता भारतीय सेना में कार्यरत थे, तो 6वीं से 8वीं तक की शिक्षा यशराज ने जम्मू से प्राप्त की। इसके बाद 12वीं की शिक्षा उन्होंने देहरादून, उत्तराखण्ड से प्राप्त की। और यहीं से वह सेना की तैयारी में जुट गये। वर्ष 2019 में यशराज ने एनडीए में आल इंडिया 17वीं रैंक हासिल की थी। इसके बाद वह प्रशिक्षण के लिए चले गये। वर्ष 2023 में वह भारतीय सैन्य अकादमी देहरादून में प्रशिक्षण लेने पहुंचे और एक साल के प्रशिक्षण के बाद अब वह शनिवार को लेफ्टिनेंट बन गए। यशराज की इस सफलता से पूरे गांव में जश्न का माहौल है। लोग उनके घर पर बधाईयां देने पहुंच रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *