महिलाओं के प्रति होने वाली हिंसा को रोकने के लिए अब महिलाओं को खुद आना होगा आगे–ज्योति मिश्रा

ख़बर शेयर करें -

 

 

राज्य महिला आयोग उपाध्यक्ष श्रीमती ज्योति मिश्रा ने आज टूनाकोट शेरा गांव का क्षेत्रीय भ्रमण किया और इस दौरान वहां एक जन जागरूकता शिविर का आयोजन किया शिविर में दूरदराज से आए ग्रामीणों ने अपनी समस्याओं को उपाध्यक्ष के समक्ष रखा और आयोग के उपाध्यक्ष ने कुछ समस्याओं का त्वरित निदान विभाग के माध्यम से करवाया और जिन समस्याओं का निदान शिविर में नहीं हो पाया

 

 

 

 

 

उनमें अधिकारियों को उन समस्याओं में तुरंत संज्ञान लेकर जल्द से जल्द उन समस्याओं का निदान करने को कहा। आयोग के उपाध्यक्ष द्वारा प्रदेश में महिलाओं के लिए जो योजनाएं चलाई जा रही हैं उनके बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि महिलाओं के प्रति होने वाली हिंसा को रोकने के लिए अब महिलाओं को ही खुद आगे आकर पहल करनी होगी।

यह भी पढ़ें 👉  सीएम पुष्कर सिंह धामी ने विदेश में दिये राहुल गाँधी के बयान पर क्या कहा सुनिये.....

 

 

 

 

उन्हें सबसे पहले शिक्षित होना होगा। उसके बाद आर्थिक रुप से आत्मनिर्भर होने के साथ अपने अधिकारों के लिए जागरुक होना होगा। अगर यह कार्य सफल हो जाए तो बहुत हद तक हम महिलाओं के प्रति होने वाली हिंसा को रोक सकते हैं। उन्होंने कहा कि अभी तक समझा जाता है कि गरीबी और अशिक्षा की महिला हिंसा का मुख्य कारण है। लेकिन शिक्षित समाज में भी महिला संबंधी अपराध बढ़ रहे है। इसके लिए सभी को जागरुक होना होगा।

यह भी पढ़ें 👉  भू माफिया को लेकर ग्रामीणों का बड़ा प्रदर्शन, आक्रोश में फूंका पुतला

 

 

 

 

 

 

उन्होंने सरकार के माध्यम से महिला सुरक्षा को चलाई जा रही विभिन्न हेल्पलाइनों के बारे में जागरुक किया। उन्होंने कहा कि अगर किसी के साथ भी कोई हिंसा, उत्पीड़न, छेड़खानी आदि होती है तो तुरंत हेल्पलाइन नंबरों पर काल कर सकते है। यह 24 घंटे आपके लिए उपलब्ध है।

 

 

 

 

 

इस दौरान हेमंत सिंह मेहरा नायब तहसीलदार, सब इंस्पेक्टर रिंकी सिंह, हेमा बेलवाल बाल विकास समाज कल्याण से नम्रता गौड़ आनद सिंह मेहरा विकास खंड प्रभारी, ताड़ीखेत क्षेत्र पंचायत राजेंद्र कुमार पूर्व क्षेत्र पंचायत महेंद्र सिंह मेहरा व स्थानीय लोग मौजूद थे।

Ad
Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments