Uttrakhand News :स्वामी विवेकानंद घाट पर गंगा आरती के साथ योग सत्र का आयोजन,योग अभ्यास के साथ पारंपरिक गंगा आरती से दिव्य आध्यात्मिक अनुभव

ख़बर शेयर करें -

स्वामी विवेकानंद ने योग के द्वारा विश्व बंधुत्व की भावना का विकास किया: स्वामी दयामुर्त्यानंद

योग अभ्यास के साथ पारंपरिक गंगा आरती से दिव्य आध्यात्मिक अनुभव

धर्म नगरी हरिद्वार में गंगा दशहरा के पावन पर्व पर स्वामी विवेकानंद घाट, रामकृष्ण मिशन सेवाश्रम कनखल में मां गंगा आरती के साथ योग सत्र का आयोजन किया गया। इस अवसर पर रामकृष्ण मठ के बड़े महाराज एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षक स्वामी दयामुर्त्यानंद (डॉ प्रवक्त महाराज), पटना राम कृष्ण मठ से आए पूज्य संत स्वामी अमृत राज महाराज, पूज्य जगदीश महाराज एवं अन्य वरिष्ठ संतों की गरिमामयी में उपस्थिति रही।

स्वामी दयामुर्त्यानंद ने प्रत्येक मानव के जीवन में योग्य के महत्व को बताते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद जी के अनुसार ज्ञान के दो रूप हैं वस्तु जगत का ज्ञान तथा आत्म तत्त्व का ज्ञान मनुष्य को ये दोनों प्रकार के ज्ञान को प्राप्त करना चाहिए । स्वामी विवेकानंद ने योग के द्वारा विश्व बंधुत्व की भावना का विकास करना चाहते और वैदिक धर्म और संस्कृति समस्त स्वरूपों का सही प्रतिनिधित्व किया। स्वामी अमृत राज महाराज ने कहां की आयुर्वेदिक एवं यूनानी सेवाएं उत्तराखंड एवं रामकृष्ण मठ कनखल के सहयोग से गंगा आरती और योग सत्र का सुंदर आयोजन किया गया, इस आयोजन से योग साधक ही नहीं आने वाले गंगा दशहरा के अवसर पर आने वाले तीर्थ यात्रियों को भी प्रेरणा मिली है और मैं आह्वान करता हूं की सामान्य जनमानस सिर्फ अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के दिन ना योग करके अपने जीवन में योग को अपनाएं जिससे वह स्वस्थ जीवन के साथ एक आध्यात्मिक जीवन भी प्राप्त कर सकते हैं। जगदीश महाराज ने अपने उद्बोधन में कहा कि जब सारा विश्व योग को अपना रहा है तो हम भारतवासी ही क्यों पीछे रहे योग को अपनाकर हम दीर्घायु और सकारात्मक जीवन जी सकते हैं। जिला आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी डॉ स्वास्तिक सुरेश ने बताया कि 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर हरकी पैड़ी मालवीय घाट पर भव्य कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। सुबह की गंगा आरती के बाद आयुर्वेदिक एवं यूनानी सेवाएं विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी, श्री गंगा सभा के पदाधिकारी, प्रशासन के अलावा श्रद्धालु भी कार्यक्रम में भाग लेंगे। 

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :भारी बारिश से कच्चे घर के ऊपर मलबा गिरने से हुआ हादसा, एक व्यक्ति की मौत हो गई जबिक एक घायल

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में दिव्य प्रेम सेवा मिशन के परमाध्यक्ष श्रद्धेय डॉ. आशीष गौतम जी भी उपस्थित रहेंगे। राष्ट्रीय आयुष मिशन के नोडल अधिकारी एवं कार्यक्रम संयोजक डॉ अवनीश उपाध्याय ने सभी पूज्य संतों और आने वाले योग साधकों तथा तीर्थ यात्रियों को धन्यवाद ज्ञापित किया। 

यह भी पढ़ें 👉  Almora News:एमबीपीजी कालेज में छात्रसंघ अध्यक्ष पर प्राथमिकी दर्ज होने से गुस्साए समर्थक छात्रों ने परिसर में जमकर किया हंगामा,विद्यार्थियों को खदेड़ते हुए गेटों को करा दिया बंद

योग सत्र के दौरान योग अनुदेशक प्रतिभा, निधि भट्ट एवं योगाचार्य डॉ रुचिता उपाध्याय द्वारा सभी योग साधकों एवं तीर्थ यात्रियों को योगाभ्यास कराया गया। इस अवसर पर डॉ घनेंद्र वशिष्ठ, डॉ अश्वनी कौशिक, के के तिवारी, राजेश गुप्ता, प्रिंस कुमार, आशीष चौहान, निलयांश उपाध्याय आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *