Uttrakhand News :राजकीय शिक्षक संघ ने प्रधानाचार्य पद के लिए विभागीय सीधी भर्ती का किया विरोध, आज प्रदेश भर में होगा विरोध

ख़बर शेयर करें -

राजकीय शिक्षक संघ ने प्रधानाचार्य पद के लिए विभागीय सीधी भर्ती का विरोध किया है। संगठन के प्रदेश अध्यक्ष राम सिंह चौहान ने कहा, आज राज्यभर में शिक्षक, मुख्य शिक्षा अधिकारी और खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय में प्रदर्शन कर विज्ञप्ति की होली जलाएंगे।

💠जबकि देहरादून जिले के शिक्षक शिक्षा निदेशालय में प्रदर्शन करेंगे।

राजकीय शिक्षक संघ के प्रांतीय अध्यक्ष ने कहा, राज्य लोक सेवा आयोग ने प्रधानाचार्य के 692 पदों के लिए विभागीय सीधी भर्ती के लिए विज्ञप्ति निकाली है। राजकीय शिक्षक संघ इसका विरोध करता है। प्रांतीय संगठन की ओर से निर्णय लिया गया है कि पहले चरण में इसके विरोध में 13 मार्च को गढ़वाल और कुमाऊं मंडल कार्यालय के साथ ही सभी जिलों और खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालयों में प्रदर्शन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :प्रदेश में पहली कक्षा में प्रवेश की न्यूनतम आयु सीमा पांच वर्ष करने की तैयारी,मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दी हरी झंडी

यदि इसके बाद भी मांग पर अमल न किया गया तो संगठन आंदोलन तेज करने को बाध्य होगा। संगठन के प्रांतीय महामंत्री रमेश चंद्र पैन्युली ने इसे शिक्षकों के साथ अन्याय बताया है। उन्होंने कहा, सरकार के इस फैसले से अधिकतर शिक्षक पदोन्नति से वंचित हो रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  देश विदेश की ताजा खबरें सोमवार 15 अप्रैल 2024

शिक्षकों के वरिष्ठता विवाद के चलते प्रधानाचार्य के पदों पर पदोन्नति नहीं हो पा रही है, इससे स्कूल में शिक्षण कार्य प्रभावित हो रहा है। स्कूल में जब तक प्रधानाचार्य नहीं रहेंगे दिक्कत आएंगी। शिक्षा मंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि स्क्रीनिंग परीक्षा के माध्यम से इन पदों को विभागीय भर्ती से भरा जाएगा। स्पष्ट करना है कि इसमें पदोन्नति के पदों को छोड़कर अन्य पदों पर विभागीय सीधी भर्ती की जा रही है। -बंशीधर तिवारी, शिक्षा महानिदेशक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *