Uttarakhand News: पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता,27 लाख की स्मैक के साथ तस्करो को दबोचा

ख़बर शेयर करें -

ड्रग्स फ्री देवभूमि अभियान के तहत पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। रानीपुर कोतवाली हरिद्वार की पुलिस और एसओजी की टीम ने बिजनौर के एक तस्कर को गिरफ्तार किया है। उसके कब्जे से 27 लाख रुपए की स्मैक बरामद हुई है।जबकि उसके बड़े भाई की तलाश की जा रही। पड़ताल में सामने आया है कि दोनों भाई बरेली से स्मैक तस्करी कर बेचने का धंधा कर रहे थे।

🔹जाने पूरा मामला 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रमेन्द्र डोबाल ने पूरे मामले का पर्दाफाश करते हुए पुलिस टीम को शाबाशी दी है। जिला पुलिस मुख्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रमेंद्र डोबाल ने बताया कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की पहल पर चलाए जा रहे ड्रग्स फ्री देवभूमि अभियान के तहत बड़े नशा तस्करों पर कार्रवाई के निर्देश पुलिस और एसओजी को दिए हुए हैं।

🔹पुलिस ने ऐसे बिछाया जाल

सीओ ऑपरेशन निहारिका सेमवाल के नेतृत्व में रानीपुर कोतवाली प्रभारी नरेंद्र सिंह बिष्ट और एसओजी प्रभारी रंजीत तोमर ने अपनी टीम के साथ मिलकर जाल बिछाते हुए बैरियर नंबर पांच के पास एक युवक को धर लिया। उसके कब्जे से 272 ग्राम स्मैक बरामद हुई। उसने पूछताछ में अपना नाम अनुराग निवासी स्याऊ चांदपुर जिला बिजनौर हाल निवासी सुभाष नगर ज्वालापुर बताया। एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल ने बताया कि अनुराग और उसका बड़ा भाई अभिषेक मिलकर बरेली से कमर्शियल मात्रा में स्मैक तस्करी कर हरिद्वार लाते थे और नशे के छोटे धंधेबाजों को बेचते थे। सिडकुल की एक फैक्ट्री में कार्यरत अभिषेक की तलाश की जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :नाबालिग बिना हेलमेट दौड़ा रहा था स्कूटी रानीखेत पुलिस ने अभिभावक के विरुद्ध की इतने हजार की चालानी कार्यवाही, स्कूटी सीज

🔹नशे के कारोबार से की तरक्की

बताया कि दोनों भाइयों ने मिलकर नशे का धंधा करते हुए सुभाषनगर में अपना मकान बनाया हुआ है। गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए उनकी संपत्ति जब्त की जाएगी। इस दौरान एसपी अपराध अजय गणपति कुंभार, सीओ निहारिका, प्रभारी निरीक्षक नरेंद्र सिंह बिष्ट, एसओजी प्रभारी रंजीत तोमर, एसएसआई नितिन चौहान आदि मौजूद रहे।

🔹ट्रेन से तस्करी करते थे दोनों भाई

बरेली से स्मैक लाकर बेचने वालों के तलाश में पुलिस अमूमन रोडवेज बस वह अन्य निजी वाहनों की चेकिंग करती है। दोनों भाई से वाकिफ थे और इसलिए पुलिस को गच्चा देने के लिए ट्रेन में तस्करी करते थे। घर पहुंचने से पहले ही पुलिस ने उसे दबोच लिया।

यह भी पढ़ें 👉  Weather Update :उत्तराखंड में पल-पल बदल रहा है मौसम,मौसम विभाग ने 16 जुलाई तक भारी बारिश का येलो अलर्ट किया जारी

🔹रंजीत तोमर ने फिर निभाई अहम भूमिका

एसओजी हरिद्वार प्रभारी रंजीत तोमर लगातार नशे के बड़े तस्करों की धरपकड़ में अहम रोल अदा कर रहे हैं। कुछ दिन पहले जिले में स्मैक के सबसे बड़े सप्लायर सद्दाम को भी रंजीत तोमर की अगुवाई में पुलिस टीम ने गिरफ्तार किया था। ताजा सफलता में भी रंजीत तोमर की अहम भूमिका सामने आने पर एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल ने उन्हें खास तौर पर शाबाशी दी है। पुलिस टीम में रानीपुर कोतवाली प्रभारी नरेंद्र सिंह बिष्ट, एसएसआई नितिन चौहान, उप निरीक्षक अर्जुन कुमार कांस्टेबल अजय कुमार, दीप गौड और विवेक गोसाई व एसओजी से उपनिरीक्षक रंजीत तोमर, अपर उप निरीक्षक सुंदरलाल, हैड कांस्टेबल मनोज और कांस्टेबल वसीम शामिल रहे।