Health Tips:ठंड के मौसम में सर्दी-खांसी से बचना है, तो इन जड़ी-बूटियों का जरूर करें सेवन,इम्युनिटी बढ़ाने के साथ शरीर को रखेंगे गर्म

ख़बर शेयर करें -

उत्तर भारत में अब ठंड तेजी से बढ़ने लगी है। उत्तराखंड, हिमाचल, जम्मू-कश्मीर के कई इलाकों में बर्फबारी शुरू हो गई है, वहीं मैदानी राज्यों में भी कड़ाके की ठंड पड़ रही है. सर्दियों में शरीर को गर्म रखने के लिए लोग तरह-तरह के उपाय करते हैं और अपने खान-पान की आदतों में भी बदलाव करते हैं।

🔹सेवन से शरीर को मिलती है गर्मी गर्मी

पहाड़ों में लोग ऐसे भोजन का अधिक सेवन करते हैं, जो ठंड के मौसम में भी गर्मी का एहसास देता है। हिमालय की गोद में कई ऐसी जड़ी-बूटियां पाई जाती हैं, जिनके सेवन से शरीर में गर्मी पैदा होती है। उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में कई जड़ी-बूटियां और औषधीय पौधे हैं, जिनमें गर्मी की तासीर होती है। यहां के लोग ठंड में खुद को बचाने के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं। हालाँकि, जड़ी-बूटियों का सीधा सेवन शरीर को नुकसान भी पहुंचा सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :जिले के अस्पतालों में 23 गायब चिकित्सकों ने स्वास्थ्य विभाग के साथ ही मरीजों की सेहत बिगाड़ने का काम काम

🔹जड़ी-बूटियों का मिश्रण आपको गर्म रखेगा

हिमालयी जड़ी-बूटियों पर शोध करने वाले डॉ. विजयकांत पुरोहित कहते हैं कि सर्दियों में कई जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया जाता है। तुलसी, लेमन ग्रास, अजवायन और टिमरू की पत्तियों का मिश्रण चाय के रूप में लिया जा सकता है। डॉ। पुरोहित कहते हैं कि आजकल उच्च हिमालय के लोग टेक्सास (थुनीर), एंजेलिका ग्लौका अडागु (चोरू) की पत्तियों को चाय के रूप में भी लेते हैं, जो शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। इसके अलावा यह शरीर को ठीक करने का भी काम करता है।

🔹कैसे करें सेवन?

इन औषधीय पौधों की पत्तियों को सुखाकर और पत्तियों को पीसकर इसमें मिलाया जाता है। इसके बाद पानी के साथ गर्म करते समय इसमें चीनी और नींबू का भी इस्तेमाल किया जा सकता है. इसके बाद इसे छानकर पेय के रूप में सेवन करना फायदेमंद होता है। इन जड़ी-बूटियों से बनी ग्रीन टी भी बाजार में आसानी से उपलब्ध है।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :देवदार के 900 पेड़ों के कटान का जागेश्वर के लोगों ने किया विरोध

🔹दूध के साथ च्यवनप्राश लें

डॉ. पुरोहित आगे बताते हैं कि मानव शरीर का एक निश्चित तापमान होता है। उस तापमान को बनाए रखने के लिए व्यक्ति विभिन्न संसाधनों का उपयोग करता है। अगर शरीर को गर्म रखने के लिए जड़ी-बूटियों का सेवन करना है तो जड़ी-बूटियों और औषधीय पौधों से बना च्यवनप्राश बेहतर है। उनका कहना है कि अगर रोजाना एक चम्मच च्यवनप्राश दूध के साथ लिया जाए तो यह शरीर को गर्म रखता है और ऊर्जावान भी बनाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *