Almora News :एक मई से जागेश्वर में खुलेगी अस्थायी पुलिस चौकी,पर्यटन सीजन के दौरान जागेश्वर में भारी वाहनों का प्रवेश रहेगा प्रतिबंधित

ख़बर शेयर करें -

जागेश्वर धाम में बढ़ती पर्यटकों की भीड़ के चलते यातायात व्यवस्था पटरी से उतर रही है और जाम के हालात पैदा हो रहे हैं। समस्या को देखते हुए शनिवार को जागेश्वर में मंदिर समिति, प्रशासन और पुलिस की बैठक हुई।

बैठक में एक मई से जागेश्वर में अस्थायी पुलिस चौकी खोलने का निर्णय लिया गया। तय किया गया कि पर्यटन सीजन के दौरान जागेश्वर में भारी वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। भारी वाहनों को करीब पांच किलोमीटर पहले ही रोक दिया जाएगा।

जागेश्वर मार्ग पर रेता-बजरी के वाहन भी काफी संख्या में गुजरते हैं। भारी वाहनों से जाम की स्थिति बन रही है। जाम से निजात के लिए अस्थायी पुलिस चौकी बनायी जाएगी। चौकी में एक एसआई, तीन कांस्टेबल और चार होमगार्ड तैनात रहेंगे। यहां सुबह नौ से शाम पांच बजे तक जागेश्वर के अंदर भारी वाहनों के प्रवेश पर रोक रहेगी। वाहनों को पार्क करने के लिए भी उचित व्यवस्था की जाएगी। सड़क किनारे लगाए जाने वाले फड़ और रेहड़ी संचालकों को भी व्यवस्थित किया जाएगा। यह व्यवस्था श्रावण मेले की समाप्ति तक जारी रहेगी। इसके बाद अगर जरूरत पड़ी तो व्यवस्था को आगे बढ़ाया जा सकता है। बैठक में एसडीएम एनएस नगन्याल, मंदिर समिति प्रबंधक ज्योत्सना पंत, उपाध्यक्ष नवीन भट्ट, थानाध्यक्ष विजय नेगी, पुजारी प्रतिनिधि नवीन भट्ट, व्यापार मंडल अध्यक्ष मुकेश भट्ट, सचित खष्टी भट्ट, उपाध्यक्ष केवल भट्ट, कोषाध्यक्ष हरीश भट्ट आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :पर्यटकों के लिए इस वर्ष एक जून को खोल दी जाएगी विश्व प्रसिद्ध फूलों की घाटी

💠शटल सेवा पर भी हुई चर्चा

जागेश्वर धाम में शटल सेवा शुरू करने पर भी चर्चा हुई, लेकिन इसके लिए अभी निर्णय नहीं लिया गया। बैठक में मौजूद लोगों ने कहा कि अभी हालात काबू में हैं। अगर पर्यटकों की भीड़ बढ़ती है तो शटल सेवा शुरू करने का निर्णय लिया जा सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :उत्तराखंड मलिन बस्ती विकास परिषद ने बस्तियों को मालिकाना हक दिलाने की उठाई मांग

जागेश्वर धाम में पर्यटकों की आवाजाही शुरू हो गई है। व्यवस्थाएं न बिगड़ें इसके लिए मंदिर समिति और पुलिस प्रशासन की बैठक ली गई थी। बैठक में सीजनल चौकी संचालित करने और सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक भारी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया गया है।

एनएस नगन्याल, एसडीएम भनोली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *