Almora News :लंबे समय से कर्मचारियों की कमी से जूझ रहे डीआईसी में लंबे समय बाद सात कर्मियों की हुई तैनाती

ख़बर शेयर करें -

कर्मचारियों की कमी से जूझ रहे जिला उद्योग केंद्र (डीआईसी) में लंबे समय बाद सात कर्मियों की तैनाती हुई। नए कर्मचारियों की तैनाती होने से जिले के हर बेरोजगार तक विभाग की पहुंच आसान होगी।

💠युवाओं के लिए रोजगार के नए द्वार खुलेंगे।

जिले में कुटीर और लघु उद्योगों को बढ़ावा देकर युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए वर्ष 1984 में धारानौला में डीआईसी खोला गया। केंद्र लंबे समय से अधिकारी, कर्मचारियों की कमी से जूझ रहा था। ऐसे में युवाओं को विभाग की संचालित योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा था। यहां 33 पदों के सापेक्ष 10 कर्मी तैनात होने से उनके लिए 11 विकासखंड के हर गांव के युवाओं को रोजगार से जोड़ना चुनौती बना हुआ था। अब विभाग में सहायक प्रबंधक के छह और सहायक लेखाकार के एक पद पर नियुक्ति होने से कर्मचारियों को काम के अतिरिक्त बोझ से निजात मिलेगी। विभाग की योजनाओं का लाभ भी बेरोजगारों को मिल सकेगा।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :नवंबर महीने में मिलेगा प्रदेश भाजपा को अपना नया अध्यक्ष,नवंबर तक भट्ट के हाथों में ही रहेगी कमान

💠21 पदों पर नियुक्ति का इंतजार

अल्मोड़ा। विभाग में सृजित 33 पदों के सापेक्ष अभी भी 21 पद रिक्त हैं। केंद्र में नए कर्मचारियों की तैनाती होने के बाद भी यहां प्रबंधक के दो, सहायक प्रबंधक के पांच, अपर सांख्यिकी अधिकारी, सहायक सांख्यिकी अधिकारी, वैयक्तिक सहायक, ज्येष्ठ लेखा परीक्षक, सहायक विकास अधिकारी प्रथम, सहायक विकास अधिकारी द्वितीय, प्रशासनिक अधिकारी, प्रधान सहायक, वरिष्ठ सहायक का पद खाली है।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :हवालबाग विकासखंड के ग्रामीण रेशम उत्पादन कर बनेंगे आत्मनिर्भर, 12 हेक्टयर भूमि पर नौ हजार रौपे जाएंगे पौंधे

💠लक्ष्य प्राप्ति होगी आसान

अल्मोड़ा। जिला उघोग केंद्र एमएसवाई, पीएमजीपी और सीएम नैनो योजना के तहत बेरोजगारों को उघोग स्थापित करनें के लिए ऋण उपलब्ध कराता है। इसके लिए उसे हर साल लक्ष्य मिलता है। अब रिक्त पदों में कर्मियों की तैनाती होने से उनके लिए लक्ष्य तक पहुंचाना आसान होगा।

रिक्त पदों के कर्मचारियों की नियुक्ति के लिए मुख्यालय से मांग की गई थी। इसके बाद केंद्र में सहायक प्रबंधक के छह और सहायक लेखाकार की तैनाती हो गई है। दूसरे खाली पदों को भी भरने के प्रयास किए जा रहे हैं।

– मीरा बोहरा, महाप्रबंधक, जिला उद्योग केंद्र अल्मोड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *