Uttrakhand News :उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय में कार्यरत आउटसोर्स कर्मियों को छह माह से वेतन न मिलने पर भूख हड़ताल का किया एलान

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय में कार्यरत आउटसोर्स कर्मियों (उपनल व पीआरडी) को छह माह से न वेतन मिला और न ही सेवा विस्तार। जिस कारण कर्मचारी मानसिक व आर्थिक परेशानी झेल रहे हैं।

विवि प्रशासन से कई बार वार्ता के बावजूद मामले का समाधान नहीं निकल रहा। जिससे गुस्साए कर्मचारियों ने बुधवार से भूख हड़ताल का एलान किया है।

💠समय-समय पर अधिकारियों के सामने रखते रहे अपनी पीड़ा

उपनल कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के विभागाध्यक्ष अशोक कुमार का कहना है कि विवि प्रशासन लगातार कर्मचारियों की उपेक्षा कर रहा है। कर्मचारी समय-समय पर मौखिक व लिखित रूप में अपनी पीड़ा अधिकारियों के सामने रखते रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  Weather Update :उत्तराखंड में मौसम विभाग के अनुसार इन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी,जानिए कैसा रहेगा अल्मोड़ा का मौसम

💠कर्मचारियों ने उच्च न्यायालय में लगाई न्याय की गुहार

हर बार यही कहा जाता है कि जल्द वेतन भुगतान कर दिया जाएगा, पर अब तस समाधान नहीं हुआ। जिस पर कर्मचारियों ने उच्च न्यायालय में न्याय की गुहार लगाई। अदालत ने आदेश दिया है कि स्थाई नियुक्ति होने तक वर्तमान कार्मिक अपनी सेवा देते रहेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :कांग्रेस की 24 जुलाई से शुरू हो रही केदारनाथ धाम बचाओ पैदल यात्रा का पूर्व सीएम हरीश रावत ने किया समर्थन, यात्रा में होंगे शामिल

💠बुधवार से भूख हड़ताल शुरू करेंगे कर्मचारी

स्थाई नियुक्ति से पहले विवि आउटसोर्स पर अन्य कर्मचारियों की नियुक्ति नहीं करेगा पर विवि प्रशासन इस आदेश की भी अवहेलना कर रहा है। ऐसे में सिवाय आंदोलन के कोई रास्ता नहीं बचा है। कर्मचारी बुधवार से बेमियादी भूख हड़ताल शुरू कर रहे हैं। जिससे संबंधित पत्र कुलपति, मुख्यमंत्री व राज्यपाल को भी भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *