Uttrakhand News :यहा शहर के पॉश इलाके में दिनदहाड़े लूटपाट,कारोबारी के परिवार को बंधक बना की लूटपाट,बेटे व छोटे भाई का किया अपहरण

ख़बर शेयर करें -

शहर के पॉश इलाके वसंत विहार क्षेत्र में अनुराग चौक स्थित पर्ल हाइट्स अपार्टमेंट में शनिवार दिनदहाड़े हथियारों से लैस तीन बदमाशों ने फल कारोबारी के परिवार को बंधक बना लूटपाट की।

💠बदमाश करीब दो घंटे तक कारोबारी के फ्लैट में रहे और परिवारवालों को पीटा।

इसके बाद बदमाशों ने न केवल लाखों के जेवरात और आठ लाख रुपये लूटे, बल्कि कारोबारी के बेटे व उनके छोटे भाई को उन्हीं की कार में अपहरण कर ले गए। आरोप है कि अपहृत किए गए बेटे व भाई को छोड़ने के लिए बदमाशों ने उनसे दो करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी और इसके बाद उन्हें दून शहर से करीब 25 किमी दूर देहरादून-सहारनपुर राजमार्ग पर उत्तर प्रदेश के मोहंड में छोड़ दिया।

💠जल्द दो करोड़ रुपये का बंदोबस्त कर लो

बदमाशों ने लूटी गई कार भी वहीं छोड़ दी व जाते हुए धमकी दी कि जल्द दो करोड़ रुपये का बंदोबस्त कर लो। सूचना पर पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और बदमाशों की तलाश में उत्तर प्रदेश पुलिस को भी सूचित कर दिया।

वारदात शनिवार दोपहर वसंत विहार थाना क्षेत्र में बल्लीवाला चौक और अनुराग चौक के बीच स्थित पर्ल हाइट्स अपार्टमेंट में हुई। यहां फल कारोबारी विकास त्यागी फ्लैट नंबर-614 में परिवार सहित रहते हैं। वह फलों की खरीद-फरोख्त कर दुबई में सप्लाई करते हैं। घटना के वक्त दोपहर करीब साढ़े 12 बजे विकास, उनकी पत्नी शालू, बड़ा बेटा तेजस और छोटा बेटा हार्दिक फ्लैट में मौजूद थे।

आरोप है कि इसी दौरान तीन बदमाश जबरन फ्लैट में घुस आए। उनके हाथ में तमंचा और चाकू था। बदमाशों ने हथियारों के बल पर सभी को बंधक बना लिया लूटपाट शुरू कर दी। इस दौरान विरोध करने पर बदमाशों ने विकास के हाथ पर चाकू से हमला कर उन्हें घायल कर दिया।

इस बीच दोपहर डेढ़ बजे विकास के छोटे भाई अभिषेक त्यागी भी फ्लैट में पहुंचे तो बदमाशों ने उन्हें भी बंधक बना लिया। कारोबारी विकास त्यागी के अनुसार, करीब दो घंटे तक फ्लैट में रहे बदमाशों ने अलमारी में रखे करीब 15 तोले सोने के जेवरात और आठ लाख रुपये की नकदी लूट ली।

आरोप है कि लूटपाट के दौरान बदमाशों ने दो करोड़ रुपये की रंगदारी भी मांगी। विकास ने यह रकम देने में असमर्थता जताई तो बदमाश उनके बेटे हार्दिक और भाई अभिषेक को हथियारों के बल पर अपहरण कर ले गए। आरोप है कि बदमाश हार्दिक और अभिषेक को उन्हीं की कार में बैठाया और अभिषेक को कार चलाने के लिए कहा। एक घंटे बाद उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जनपद के मोहंड क्षेत्र में शाकुंभरी देवी मंदिर मार्ग पर बदमाशों ने कार रुकवाई और धमकी दी कि जल्द दो करोड़ रुपये का बंदोबस्त कर लेना।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :अल्मोड़ा पुलिस के जवानों ने पेश की ईमानदारी की मिशाल चितई मंदिर परिसर में मिले नगदी से भरे पर्स और कीमती मोबाईल को किया सुपुर्द

आरोप है कि यह धमकी देकर बदमाश हार्दिक व अभिषेक को कार समेत छोड़कर भाग गए। शाम करीब चार बजे हार्दिक व अभिषेक घर लौटे तब कारोबारी विकास त्यागी ने घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना पर एसपी सिटी प्रमोद कुमार, सीओ सिटी नीरज सेमवाल पुलिस बल समेत मौके पर पहुंचे।

पुलिस ने अपार्ट्मेंट के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली और सुरक्षा कर्मियों से पूछताछ की। इस दौरान अपार्ट्मेंट के दो सुरक्षा कर्मियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया और थाने ले गई। एसपी सिटी ने बताया कि कारोबारी से घटना की तहरीर मांगी गई है। उसके आधार पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

💠अंबाला के कारोबारी से चल रहा था विवाद

कारोबारी विकास त्यागी ने पुलिस को बताया कि वह मूल रूप से सहारानपुर जनपद के नकुड़ के रहने वाले हैं। डेढ़ साल पहले ही वह परिवार के साथ देहरादून शिफ्ट हुए थे। पिछले दिनों वह कारोबार के सिलसिले से दुबई गए और नौ अप्रैल को वापस आए। उन्होंने बताया कि वर्ष 2021 में अंबाला के कारोबारी राजीव अग्रवाल को उन्होंने 61 आईफोन मोबाइल बेचे थे, लेकिन कारोबारी ने उन्हें 61 लाख रुपये का चेक दिया, जो बाउंस हो गया।

इस मामले में उन्होंने मुकदमा कराया हुआ है। इसके बाद से आरोपित कारोबारी लगातार उन्हें धमकी दे रहा है। जांच में पुलिस को पता चला कि अंबाला के कारोबारी ने भी विकास त्यागी के विरुद्ध 90 लाख रुपये हड़पने का मुकदमा अंबाला में दर्ज कराया था, जो न्यायालय से निस्तारित हो चुका है।

💠मोबाइल फोन रखवाए, मंदिर की मूर्ति ले गए

बदमाशों ने फ्लैट में घुसने के लिए डोर बेल बजाई तो विकास त्यागी के बड़े बेटे तेजस ने दरवाजा खोला। इस दौरान बदमाशों ने उसकी कनपटी पर तमंचा रख दिया और अंदर घुसकर दरवाजा बंद कर लिया। इसके बाद फ्लैट में मौजूद सभी सदस्यों के मोबाइल फोन कब्जे में ले लिए। फ्लैट के लैंडलाइन फोन की तार भी काट दी। आरोप है कि बदमाशों ने त्यागी को बताया कि उन्हें अंबाला वाले कारोबारी ने भेजा है और दो करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी। बदमाश अपने साथ मंदिर में रखी चांदी की मूर्ति भी ले गए।

💠कौन था बाइक सवार, गार्ड ने नहीं की काल

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :उत्तराखंड में चारधाम यात्रा में पंजीकरण अनिवार्य, सरकार द्वारा जारी किया गया रजिस्ट्रेशन ऐप

विकास ने बताया कि जब भी उनके फ्लैट में बाहर से कोई आता है तो सोसायटी के मेन गेट पर मौजूद गार्ड लैंडलाइन नंबर पर फोन कर पूछते हैं। रोजाना घर का काम करने आने वाली नौकरानी और दूध देने वाले के लिए भी फोन आता है, लेकिन बदमाशों के आने से पहले गार्ड की तरफ से कोई फोन नहीं आया। सोसायटी गेट पर लगे सीसीटीवी में देखा गया कि बदमाश किराये की टैक्सी में आए थे और टैक्सी उन्हें छोड़ कर चली गई।

बदमाशों के सोसायटी में घुसते ही पीछे से एक बाइक सवार आया, जिसने गार्डों को बातों में उलझा दिया। वहीं, पुलिस की जांच में पता चला है कि बदमाशों ने गार्ड को सोसायटी कार्यालय में जाने की बात कही थी। गार्ड ने बदमाशों का रजिस्टर में विवरण भी नहीं दर्ज किया। ऐसे में गार्ड की भूमिका संदिग्ध मानी जा रही है। वहीं, पुलिस उस बाइक सवार का पता भी लगा रही है, जिसने गार्ड को बातों में उलझाया था।

💠15 लाख की सुपारी लेने की बताई बात

विकास त्यागी ने पुलिस को बताया कि बदमाशों ने उनके परिवार को खत्म करने के लिए 15 लाख रुपये की सुपारी अंबाला के कारोबारी राजीव अग्रवाल से ली है। त्यागी ने दावा किया कि यह बात खुद बदमाशों ने उन्हें बताई। बदमाशों ने अपने मोबाइल पर फेसबुक से ली गई विकास, उनके भाई और परिवार की फोटो भी दिखाई। बदमाशों ने कहा कि रंगदारी के दो करोड़ रुपये में से 90 लाख रुपये अंबाला के कारोबारी को देंगे और शेष खुद रखेंगे।

💠परिचित की थी कार

घटना के बाद बदमाश जिस कार से हार्दिक व अभिषेक को अपहरण कर ले गए, वह कारोबारी विकास त्यागी के किसी परिचित की है। विकास ने पुलिस को बताया कि शनिवार सुबह उन्होंने अपनी कार सर्विस के लिए दी थी। इसके बाद काम चलाने के लिए वह अपने परिचित की कार ले आए।

घटना की जांच की जा रही है। सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही और आरोपितों को चिह्नित करने का प्रयास किया जा रहा है। आरोपितों की धरपकड़ के लिए पुलिस और एसओजी की चार टीमों का गठन किया गया है। चूंकि, बदमाश उत्तर प्रदेश क्षेत्र से फरार हुए, ऐसे में वहां की पुलिस को भी इस संबंध में सूचित कर दिया गया है। मामला लेनदेन के विवाद से जुड़ा हुआ भी हो सकता है। हर पहलू की पड़ताल की जा रही है।

अजय सिंह, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, देहरादून

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *