Uttrakhand News :चारधाम यात्रा में अब तक 200 करोड़ रुपये का हुआ कारोबार,केदारनाथ-बदरीनाथ धामों में भक्तों का उमड़ा हुजूम

ख़बर शेयर करें -

चारधाम यात्रा में भक्तों की भारी भीड़ देखने को मिल रही है। 10 मई से शुरू यात्रा में यूपी, एमपी, गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र आदि राज्यों से भारी संख्या में तीर्थ यात्री दर्शन करने को पहुंच रहे हैं।

💠केदारनाथ-बदरीनाथ धामों में भक्तों का हुजूम उमड़ पड़ा है।

श्रद्धालुओं की रिकॉर्ड आमद से चारधाम यात्रा से जुड़े विभिन्न सेक्टर में कारोबार अब तक 200 करोड़ रुपये का हो चुका है। शनिवार को सरकार ने दावा किया शुरुआती पंद्रह दिन में पिछले साल के मुकाबले कारोबार का ग्राफ दोगुना हो गया है। इस अवधि में खासकर होटल, ढाबे, ट्रैवल से जुड़े लोगों ने अच्छा कारोबार किया है।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :चौकी प्रभारी भिकियासैंण ने आगामी ईद-उल-जुहा पर्व के दृष्टिगत आयोजित की गोष्ठी

इस साल यात्रा में यात्रियों की संख्या के रोज नए रिकॉर्ड बन रहे हैं। यात्रियों की संख्या बढ़ने से धामों में दबाव तो बढा है, लेकिन राज्य की अर्थव्यवस्था को ताकत मिल भी रही है। डीजी-सूचना बंशीधर तिवारी ने बताया कि शुरुआती पंद्रह दिन के कारोबार का आकलन कराया गया था।

इसके अनुसार अब तक चारों धाम में होटल, ढाबे, ट्रैवल, छोटे फूड-टी स्टॉल, पूजा सामग्री आदि का 200 करोड़ रुपये का कारोबार होने का अनुमान है। इसमें अकेले गढ़वाल मंडल विकास निगम ने 22 करोड़ कमाए हैं। हालांकि टैक्स और अन्य प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप में कमाई इससे भी ज्यादा है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अशासकीय विद्यालयों में लिपिक एवं शिक्षकों की नियुक्ति में गड़बड़ी की शिकायत पर एसआईटी जांच के दिए दिए

चारधाम होटल एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष अजय पुरी के अनुसार गंगोत्री घाटी में लगभग 400 और यमुनोत्री घाटी में 300 होटल, होम स्टे और धर्मशाला हैं। बद्रीनाथ होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेश मेहता के अनुसार श्रीनगर से बद्रीनाथ तथा रुद्रप्रयाग से केदारनाथ तक करीब 850 होटल, होम स्टे और धर्मशालाएं हैं।

पिछले साल के मुकाबले इस बार दो से तीन गुना ज्यादा भीड़ उमड़ी है। स्थानीय कारोबारियों के अनुसार होटल, होम स्टे में करीब 80 करोड़, छोटे व्यापारी 20 करोड़, घोड़ा, खच्चर, डंडी कंडी और गाइड आदि 30 करोड़, परिवहन सेक्टर में 40 करोड़ की आमदनी का अनुमान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *