Uttrakhand News :हरिद्वार लोकसभा सीट त्रिकोणीय मुकाबले में शुरुआती रुझान में बीजेपी के त्रिवेंद सिंह रावत आगे

ख़बर शेयर करें -

हरिद्वार. हरिद्वार लोकसभा सीट त्रिकोणीय मुकाबले में शुरुआती रुझान में बीजेपी के त्रिवेंद सिंह रावत आगे चल रहे हैं. इस सीट पर कांग्रेस से वीरेंद्र रावत और बसपा से जमील अहमद मैदान में हैं.

पूरे देश में हरिद्वार देवभूमि उत्तराखंड की चारधाम यात्रा के लिए प्रवेश द्वार के रूप में पहचाना जाता है. यह संसदीय क्षेत्र गंगा तीर्थ, शक्ति पीठ मां मनसा देवी-चंडी देवी, हरकी पौड़ी और बीएचईएल की मौजूदगी के लिए भी जाना जाता है. इसके अलावा यह धार्मिक नगरी योग, आयुर्वेद और अध्यात्म पर केंद्रित शहर के रूप में प्रसिद्ध है. गायत्री तीर्थ शांतिकुंज और योग गुरु बाबा रामदेव की पतंजलि योगपीठ भी हरिद्वार लोकसभा सीट में ही आती है. इसके अलावा, हाथियों और बाघों के ल‍िए मशहूर विश्व प्रसिद्ध राजाजी टाइगर रिजर्व भी हरिद्वार की अनूठी पहचान में योगदान देता है. हरिद्वार की सीमा उत्तर-प्रदेश के साथ लगती है.

हरिद्वार उत्तराखंड राज्य का एक जिला और अहम लोकसभा सीट है. हरिद्वार जिला गढ़वाल मंडल का एक हिस्सा है. इस जिले का कुल क्षेत्रफल 2,360 वर्ग किलोमीटर है. हरिद्वार लोकसभा सीट में 11 विधानसभा क्षेत्र आते हैं.

यह भी पढ़ें 👉  देश विदेश की ताजा खबरें मंगलवार 18 जून 2024

हरिद्वार को हिंदुओं का एक महत्वपूर्ण तीर्थस्थल माना जाता है. चार धामों – बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री की शुरुआत हरिद्वार से होती है. हरिद्वार सभी चार धामों के लिए एक केंद्रीय बिंदु के रूप में कार्य करता है. हरिद्वार नाम का अर्थ है ‘भगवान का प्रवेश द्वार’. हरिद्वार को गंगाद्वार के रूप में जाना जाता है क्योंकि गंगा नदी मैदानी इलाकों से सबसे पहले यहां ही प्रवेश करती है.

हरिद्वार उन चार स्थानों में से एक है जहां हर छह साल में अर्ध कुंभ और हर बारह साल में कुंभ मेला आयोजित किया जाता है. इस शुभ दिन पर ब्रह्मकुंड में स्नान करना बहुत शुभ माना जाता है. चुनाव आयोग के साल 2017 के आंकड़ों के अनुसार, हरिद्वार संसदीय क्षेत्र में करीब 18 लाख मतदाता हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव के आंकड़ों के अनुसार, इस क्षेत्र में पुरुष मतदाताओं की संख्या 8 लाख 88 हजार 328 थी. वहीं महिला मतदाताओं की संख्या 7 लाख 54 हजार 545 दर्ज की गई थी. 2014 में इस क्षेत्र में 71.56 प्रतिशत मतदान हुआ था.

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :तीर्थ पुरोहितों ने केदारनाथ में सूचना आयोग के सचिव को बनाया बंधक,एसडीएम ने तीर्थ पुरोहितों से बातचीत का किया प्रयास

💠साल 2019 के नतीजे

भाजपा उम्मीदवार रमेश पोखरियाल 6,65,674 मतों के अंतर से विजयी हुए. कांग्रेस उम्मीदवार अम्बरीश कुमार 4,06,945 वोटों के साथ दूसरे स्थान पर रहे. बीएसपी के अंतरिक्ष सैनी 1,73,528 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर रहे.

💠साल 2014 के नतीजे

2014 में भाजपा ने उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक को उम्मीदवार बनाया. हरिद्वार कुंभ में घोटाले के आरोपों के बावजूद निशंक ने कांग्रेस नेता हरीश रावत की पत्नी रेणुका रावत के खिलाफ जीत हासिल करने में कामयाब रहे. निशंक ने कांग्रेस उम्मीदवार रेणुका रावत को 1,51,906 वोटों के अंतर से हराया. हरीश रावत की पत्नी रेणुका को 3,98,340 वोट मिले, जबकि निशंक ने 5,67,662 वोट हासिल कर संसद में अपनी जगह पक्की की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *