Uttrakhand News :बंगलूरू में आयोजित रोड शो में 4,600 करोड़ के निवेश पर हुआ करार,18 कंपनियां प्रदेश में करेंगी निवेश

ख़बर शेयर करें -

वैश्विक निवेशक सम्मेलन के लिए बंगलूरू में आयोजित रोड शो में 4,600 करोड़ के निवेश पर करार हुआ है। इसमें सेमी कंडक्टर निर्माण, इलेक्ट्रिक वाहन निर्माण, डेयरी फार्मिंग, स्वास्थ्य, पर्यटन, वैकल्पिक ऊर्जा समेत अन्य क्षेत्रों में 18 कंपनियां प्रदेश में निवेश करेंगी।

शनिवार को बंगलूरू रोड शो में कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल और रेखा आर्य की मौजूदगी में निवेशकों के साथ एमओयू किया गया। इसमें भारत सेमी कंडक्टर सोसाइटी राज्य में सेमी कंडक्टर का निर्माण करेगी, जबकि हेज प्रिसिजन प्रोडक्ट्स लिमिटेड ऑटो कंपोनेंट प्लांट, रेडवुड ग्रुप पर्यटन क्षेत्र में रिजॉर्ट, केईसी एग्रीटेक वैकल्पिक ऊर्जा में निवेश करेगी।

💠इस मौके पर सचिव शैलेश बगौली, डॉ. बीवीआरसी पुरुषोत्तम, डॉ. पंकज कुमार पांडे, चेयरमैन सीआईआई कर्नाटक विजय कृष्णन वेंकटेशन, आईटीसी लिमिटेड के उपाध्यक्ष नील किंग्सटन जेसपर, चेयरमैन रॉयल आर्किड होटल चंदर बलजी मौजूद थे।

💠इन कंपनियों से एमओयू

हिमालयन बास्केट एफपी विनिर्माण, सिलेज एग्रो कंपनी पशु पोषण, चारा, भ्रूण स्थानांतरण और क्लस्टर आधारित डेयरी फार्मिंग, इंस्पायर कंपनी कौशल, महिला उद्यमिता क्षेत्र, जीरोहार्म मेडिकल कैनबिस, निशांत अरोमास कंपनी ऑयल, कुमाऊं हिमालयन बेवरेजेज लिमिटेड पेय पदार्थ विनिर्माण संयंत्र, न्यूट्रियार्क प्राइवेट लिमिटेड न्यूट्रास्यूटिकल्स, डाई पेड्रो शुगर इंडस्ट्रीज अस्पताल, स्काईलार्क ड्रोन कंपनी ड्रोन सॉफ्टवेयर, सीडीएसई (इन्क्यूबेटर्स), त्रिलोकेश एक्सपोर्ट्स (लैबग्रोन डायमंड) और इलेक्ट्रिक व्हीकल बनाने में निवेश करेगी।

यह भी पढ़ें 👉  देश विदेश की ताजा खबरें शनिवार 13 जुलाई 2024

आठ और नौ दिसंबर को देहरादून में होने वाले वैश्विक निवेशक सम्मेलन के लिए अब तक लंदन, बर्मिंघम, दुबई, अबूधाबी और दिल्ली, चेन्नई व बंगलूरू में हुए रोड शो में कुल 69300 के निवेश प्रस्ताव पर एमओयू हो चुके हैं।

💠औद्योगिक हब के रूप में पहचान बना रहा उत्तराखंड

कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य ने कहा, देवभूमि उत्तराखंड अब औद्योगिक हब के रूप में भी वैश्विक स्तर पर पहचान बना रहा है। सरकार ने निवेश के लिए पर्यटन एवं आतिथ्य, आयुष एवं वैलनेस, फिल्म शूटिंग तथा खाद्य प्रसंस्करण, ऑटोमोबाइल्स, फार्मा, सौर ऊर्जा और सूचना प्रौद्योगिकी पर फोकस किया है। राज्य में टाटा, अशोक लीलैंड, बजाज, हीरो होंडा, महेंद्रा समूह के उद्योग स्थापित हैं। हरिद्वार व पंतनगर देश के एक प्रमुख ऑटो हब के रूप में विकसित हैं। उत्तराखंड नैसर्गिक रूप से एक जैविक राज्य है, जहां लगभग 1.52 लाख हेक्टेयर भूमि जैविक रूप से प्रमाणित है।

💠निवेश के लिए उत्तराखंड में शानदार माहौल

कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा, प्रदेश में निवेश के लिए शानदार माहौल है। आयुष एवं वेलनेस क्षेत्र में निवेश की काफी संभावनाएं हैं। प्रदेश सरकार ने उद्यमियों की हर समस्या का समाधान कर रही है। साथ ही निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए 27 नीतियां लागू की है। एमएसएमई नीति में चार करोड़ तक के पूंजी निवेश प्रोत्साहन दिया जा रहा है। पहली बार राज्य की लॉजिस्टिक्स नीति बनाई गई। राज्य में रेल, सड़क एवं हवाई कनेक्टिविटी में सुधार हो रहा है। उत्तराखंड राज्य उत्कृष्ट कानून और व्यवस्था के लिए जाना जाता है। उत्तराखंड में औद्योगिक सदभाव का इतिहास रहा है और उत्तराखंड सबसे कम औद्योगिक विवाद वाले राज्यों में से एक है।

यह भी पढ़ें 👉  देश विदेश की ताजा खबरें बुधवार 17 जुलाई 2024

💠पर्वतीय क्षेत्रों में निवेश बढ़ाने को सरकार की प्राथमिकता : धामी

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा, देश दुनिया के निवेशक उत्तराखंड में उद्योग लगाने के लिए आकर्षित हो रहे हैं। सरकार का प्रयास है कि पर्वतीय क्षेत्रों में उद्योग लगे, जिससे युवाओं को रोजगार के अवसर मुहैया हो। सभी जिलाधिकारियों से जिलों में निवेश की संभावनाओं पर प्रस्ताव मांगे गए हैं। निवेशकों के लिए लैंड बैंक तैयार किया जा रहा है। सरकार का प्रयास है कि निवेशक सम्मेलन से पहले अधिक से अधिक एमओयू निवेश प्रस्ताव को धरातल पर उतारा जाए।