Uttrakhand News :उत्तराखंड : पहाड़ों से मलबा गिरने से 170 सड़कें बंद, बारिश भूस्खलन ने ली पांच लोगों की जान

ख़बर शेयर करें -

जम्मू संभाग में सोमवार देररात शुरू हुई भारी बारिश सुबह 8 बजे जाकर थमी। बारिश से अधिकतर नदियां-नाले उफान पर आ गए, कई जगह पर जान और माल नुकसान भी हुआ। जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर बनिहाल के शेरबीबी इलाके के सिलाड में मंगलवार सुबह 5.30 बजे भूस्खलन से एक ट्रक खाई में जा गिरा।

💠हादसे में ट्रक चालक सहित चार लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में ट्रक चालक व उसका सगा भाई तथा दो अन्य सगे भाई शामिल हैं। सभी लोग पशु लेकर श्रीनगर जा रहे थे। चारों नेगवानी और ट्रेल के रहने वाले थे। हादसे में छह मवेशी भी मर गए।

💠सुरक्षाबलों ने अभियान चलाकर शवों को खाई से निकाला। इस दौरान सड़क से मलबा हटाने तक एनएच-44 अवरुद्ध रहा। हाइवे पर दोनों तरफ से यातायात रोक दिया गया। सुबह 10 बजे यातायात बहाल हुआ। राजोरी के बथान गांव में भी भूस्खलन में 13 वर्षीय बच्चे की उस समय मौत हो गई, जब पहाड़ी से खिसका पत्थर उस पर आ गिरा। मोहम्मद इरफान चेहरे पर पत्थर लगने से बुरी तरह घायल हो गया। पिता की चीख पुकार सुनकर लोगों ने पत्थर उठाकर उसे तत्काल बुद्धल के सरकारी अस्पताल में पहुंचाया जहां डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मौसम विभाग ने 16 सितंबर तक फिर जम्मू सहित संभाग के अन्य हिस्सों में बारिश की चेतावनी दी है। बता दें कि जम्मू संभाग में मानसून अमूमन 15 सितंबर तक रहता है जो इस बार बेमौसमी बारिश से लंबा खिंच रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  देश विदेश की ताजा खबरें सोमवार 10 जून 2024

💠अस्पताल में घुसा पानी

जम्मू शहर में रात दो बजे से जोरदार बारिश शुरू हुई थी। बारिश से शहर के निकासी नाले उफान पर रहे, वहीं जीएमसी में पानी भर गया। अस्पताल के प्रवेश द्वार सहित अल्ट्रासाउंड रूम में पानी भरने से यहां दो से तीन घंटे अल्ट्रासाउंड नहीं हो सके।

💠उत्तराखंड : पहाड़ों से मलबा गिरने से 170 सड़कें बंद

यलो अलर्ट के बीच प्रदेश में आज कहीं-कहीं हल्की बारिश हुई है। देहरादून समेत कई जिलों में बादल छाए रहे और बूंदाबांदी हुई। बारिश के कारण फिलहाल प्रदेश में 170 सड़कें बंद हैं। मौसम विभाग ने प्रदेशभर में बारिश का यलो अलर्ट जारी किया है। टिहरी, उत्तरकाशी, चमोली, पौड़ी और रुद्रप्रयाग समेत ज्यादातर पहाड़ी जिलों में बारिश के आसार हैं। देहरादून और हरिद्वार में भी हल्की से मध्यम वर्षा हो सकती है। मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों तक पहाड़ों में मौसम खराब रहने की आशंका जताई है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :राज्य के कुशल खिलाडिय़ों को सरकारी सेवाओं में मिलेगा आरक्षण,राजभवन से मंजूरी मिलने के बाद शासनादेश जारी

💠हिमाचल में 18 तक मौसम खराब

हिमाचल प्रदेश के कई क्षेत्रों में बारिश के यलो अलर्ट के चलते 18 सितंबर तक मौसम खराब रहने का पूर्वानुमान है। मंगलवार को राजधानी शिमला में दोपहर बाद बादल छाए रहे। शहर के कुछ क्षेत्रों में बूंदाबांदी भी हुई। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से मौसम में बदलाव आने की संभावना है।

💠शिमला-किन्नौर एनएच पांचवें दिन भी बंद : शिमला-किन्नौर नेशनल हाईवे निगुलसरी के पास पांचवें दिन भी बाधित रहा। भूस्खलन के बाद 400 मीटर एनएच ध्वस्त हो गया है। 100 मीटर मार्ग अभी बहाल करना बाकी है। पत्थर गिरने के चलते अभी एनएच बहाली में दो और दिन लग सकते हैं। मंगलवार को शिमला-किन्नौर नेशनल हाईवे पर नेसंग में भूस्खलन होने से पांच घंटे आवाजाही बाधित रही.