Uttarakhand News:वन विभाग की टीम ने बेशकीमती काजल की गांठों के साथ चार लोगो को किया गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें -

रुद्रप्रयाग के जखोली क्षेत्र में वन विभाग की टीम ने 4 तस्करों को दबोचा है। जिनके पास से 202 नग काजल की लकड़ी की गांठें बरामद हुई है। आरोपी इन गाठों को बेचने के लिए सहारनपुर ले जा रहे थे, लेकिन पकड़े गए।वहीं, गौचर में पुलिस ने चार जुआरियों को दबोचा है।जिनके पास से सवा 3 लाख की नकदी और फोन बरामद हुआ है।

🔹202 नग काजल की गांठें बरामद

वन क्षेत्राधिकारी के नेतृत्व में गठित वन क्षेत्राधिकारी, दक्षिणी जखोली की टीम द्वारा गुरुवार देर रात सघन चैकिंग के दौरान संदेह के आधार पर इनोवा वाहन यूके 07 एई 8600 को रोका जिसमें 202 नग काजल की गांठें बरामद हुई। उप प्रभागीय वनाधिकारी देवेंद्र सिंह पुंडीर ने बताया कि वाहन एवं वन उपज को कब्जे में लेकर सीज कर न्यायालय में भेजा गया। अवैध पातन एवं तस्करी में संलिप्त नेपाली मूल के अनिल पुत्र लोक बहादुर, गणेश सिंह पुत्र अनू बहादुर, भरत साईं पुत्र हरक साईं व गंगी पुत्र बीर बहादुर को हिरासत में लेकर जेल भेजा गया।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :लिव इन के लिए अब रजिस्ट्रेशन होगा अनिवार्य

🔹सहारनपुर में बेचने का था इरादा 

उप प्रभागीय वनाधिकारी देवेंद्र सिंह पुंडीर ने बताया कि संलिप्त तस्करों द्वारा स्वीकार किया गया कि उनके द्वारा वन उपज तस्करी का कार्य उत्तराखंड एवं हिमाचल प्रदेश में भी किया जा रहा था। जिसकी सूचना तुरंत अन्य क्षेत्रों को देकर इनके गिरोहों को पकड़वाने का कार्य किया गया। वन उपज तस्करी में यह गिरोह पिछले कई वर्षों से अत्यधिक सक्रिय रहा है इनके द्वारा वन तस्करी कर प्राप्त सामान को सहारनपुर में बेचा जा रहा है।

🔹चंदन की घटना के बाद हरकत में आए वन विभाग

यह बात भी सत्य है कि अगर वन विभाग इतना मुस्तैद पहले रहता तो शायद वन विभाग के घर से बेशकीमती चंदन के आठ पेड़ों की चोरी भी नहीं होती, लेकिन चंदन की घटना के बाद हरकत में आए वन विभाग के हाथ काजल के चोर लगे हैं तो कहीं ना कहीं वन तस्करों के इस पूरे नेटवर्क को लेकर भी काफी कुछ इन चोरों से मिल सकता है। बहरहाल अभी यह सवाल भी अहम है कि आखिर चंदन के तस्कर कब वन विभाग के हाथ लगेंगे?

यह भी पढ़ें 👉  देश विदेश की ताजा खबरें शनिवार 2 मार्च 2024

🔹वन टीम रही शामिल 

काजल के तस्करों को पकड़ने के अभियान दल में वन क्षेत्राधिकारी, रूद्रप्रयाग संजय कुमार, वन क्षेत्राधिकारी, दक्षिणी जखोली रजनीश लोहानी, वन क्षेत्राधिकारी, गुप्तकाशी उदय सिंह रावत, वन दरोगा बृजमोहन सिंह नेगी, वन आरक्षी गोविन्द सिंह चौहान समेत अन्य लोग शामिल रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *