पिता ने पिकनिक जाने से मना किया ताे बेटे ने ट्रेन के आगे कूद कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली.

ख़बर शेयर करें -

आज के आधुनिक और डिजिटल युग में बच्चे अपनी सहनशीलता खोते जा रहे हैं. ऐसा ही एक मामला पानीपत के गांव मेहराणा से सामने आया जहां परिवार द्वारा महज दोस्तों के साथ पिकनिक मनाने जा रहे बेटे को रोकने पर तैश में आकर बेटे ने ट्रेन के आगे कूद कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली. 

💠नैनीताल घूमने जाना चाहता था युवक 

पानीपत जिले के गांव मेहराणा के रहने वाले करीब 21 वर्षीय पुष्पेंद्र नामक के युवक जो अपने दोस्तों के साथ नैनीताल घूमने जाना चाहता था लेकिन परिवार ने मना कर दिया तो पुष्पेंद्र ने आत्महत्या कर ली.

💠राष्ट्रीय स्तर पर मेडलिस्ट रह चुका था युवक 

मृतक के चचेरे भाई और मेहराणा गांव के सरपंच प्रवीण नांदल ने जानकारी देते हुए बताया कि पुष्पेंद्र बहुत ही अच्छा लड़का था और साथ ही एक अच्छा खिलाड़ी भी था जो राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर मेडलिस्ट रह चुका है और अब इंटरनेशनल लेवल की तैयारी कर रहा था. प्रवीण ने जानकारी देते हुए बताया कि पुष्पेंद्र नैनीताल जाने के लिए कह रहा था लेकिन उसकी मम्मी-पापा ने मना कर दिया तो अचानक बाइक उठाकर घर से चल पड़ा. इसके बाद उनके पास हादसे की सूचना पुलिस द्वारा दी गई. मौके पर जाकर देखा तो पुष्पेंद्र की मौत हो चुकी थी.

यह भी पढ़ें 👉  Almora News:एमबीपीजी कालेज में छात्रसंघ अध्यक्ष पर प्राथमिकी दर्ज होने से गुस्साए समर्थक छात्रों ने परिसर में जमकर किया हंगामा,विद्यार्थियों को खदेड़ते हुए गेटों को करा दिया बंद

💠दो बहनों का इकलौता भाई था युवक

प्रवीण ने जानकारी देते हुए बताया कि पुष्पेंद्र के पिता आर्मी से रिटायर्ड हैं जो उनकी हर ख्वाहिश पूरी करते थे और बड़े ही साधारण व्यक्ति हैं. जानकारी के मुताबिक पुष्पेंद्र की पिता ने हाल ही में पुष्पेंद्र को न्यू ब्रांड i20 कार खरीद कर दी थी. पुष्पेंद्र दो बहनों का इकलौता भाई था जिसमें एक बहन की तो जनवरी माह में ही शादी हुई थी. घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पानीपत की सामान्य अस्पताल में रखवाया, जहां डॉक्टरों ने पुष्पेंद्र के शव का पोस्टमार्टम कर शव को परिजनों के हवाले कर दिया है. पुलिस परिजनों के बयान के आधार पर कार्रवाई करने की बात कह रही है.