Nainital News:हेलीकॉप्टर की मदद से अब कैंची धाम में नीम करौली बाबा के दर्शन करेंगे श्रद्धालु,कई जगह बनेंगे हेलीपैड

ख़बर शेयर करें -

कैंची धाम में भी अब जल्द ही भक्तो को हेलीकाप्टर सुविधा मिलनी वाली है।नैनीताल जिलाधिकारी वंदना सिंह ने  वीडियो क्राफेंसिंग के माध्यम से उपजिलाधिकारियों के साथ लोक निर्माण विभाग लोनिवि व सिंचाई विभाग के अधिकारिंयो के साथ विशेष बैठक की।

🔹हेलीपैड निर्माण समीक्षा कर दिशानिर्देश जारी किए

जिसमे उन्होंने निर्देश दिये कि हैलीपैड निर्माण के लिए उन जगहों का चयन करा जाए, जहां पर्यटन स्थल हो, जिससे स्थानीय लोगों को आर्थिक मज़बूती मिले साथ ही पर्यटन को भी सुगमता मिले। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों के साथ हुई बैठक में भविष्य की संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए रूप-देखा बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी को जानकारी देते हुए बताया कि “यह हैलीपैड योजना केन्द्र सरकार की योजना है और केन्द्र सरकार द्वारा इस योजना हेतु समयसीमा निर्धारित की गई है।”

यह भी पढ़ें 👉  Weather Update :उत्तराखंड में दो दिन मौसम रहेगा साफ,एक और दो मार्च को बारिश एवं बर्फबारी का येलो एवं ऑरेंज अलर्ट किया जारी

केंद्र सरकार द्वारा नैनीताल एवं कैंची धाम भोवाली में हेलिपैड निर्माण का निर्णय लिया गया है। जो इन क्षेत्रों में पर्यटकों की बढ़ती संख्या और उनकी सुगम यात्रा को मध्यनज़र रखते हुए लिया गया निर्णय है। जिलाधिकारी ने बैठक में सभी को उन स्थानों को चिह्नित करने के निर्देश दिए जो ना तो वन भूमि के अंतर्गत आते हों और ना ही हैलीपैड निर्माण से उन क्षेत्रों में ट्रेफिक जाम में बढ़त आए। वन भूमि का चयन ना करने का मुख्य कारण यह भी है कि इस योजना के पूरा होने की समयसीमा केंद्र सरकार द्वारा तय की गई है। और वन भूमि में निर्माण के लिए कई कानूनी प्रक्रियाओं के पूरा होने बाद ही निर्माण कार्य शुरू किया जा सकता है। जिसमे बहुत समय लगने की संभावना है।

यह भी पढ़ें 👉  देश विदेश की ताजा खबरें रविवार 25 फरवरी 2024

उपजिलाधिकारी प्रमोद कुमार ने बैठक में सूचना दी कि नकुचियाताल व मुक्तेश्वर में हैलीपैड निर्माण के लिए भूमि का चयन कर लिया गया है। जिसपर जिलाधिकारी ने शीघ्र एस्टीमेट बनाकर कार्य प्रारम्भ करने के निर्देश दिए हैं। उन्हाेंने नारायण नगर, सडिंयाताल, हनुमानगढ़ी, कैचीधाम तथा स्नो व्यू के अधिशसी लोनिवि, सिचाई एवं सम्बन्धित उपजिलाधिकारी को संयुक्त स्थलीय सर्वे कर शीघ्र प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *