Jammu & Kashmir:श्रीनगर में मिग-29 और वायु सेना के गरुड़ विशेष बल की तैनाती,15 अगस्त को लेकर सक्रियता बढ़ी

ख़बर शेयर करें -

भारतीय सेना ने पाकिस्तान से सटे राज्यों में सीमा पर अपनी सक्रियता बढ़ा दी है। राजस्थान के जैसलमेर में पाकिस्तान के बॉर्डर पर सीमा सुरक्षा बल ने अपनी नफरी में इजाफा कर दिया है। सभी रैंक के अधिकारियों को सीमा क्षेत्र में जाकर निगरानी व्यवस्था की मॉनिटरिंग करने के लिए निर्देशित किया गया है। इसके बाद अधिकारियों ने अपने-अपने क्षेत्र में अवस्थित सीमा चौकियों का दौरा शुरू कर दिया है। दूसरी ओर जम्मू कश्मीर में भारतीय वायुसेना की गतिविधियां बढ़ा दी गई है। जम्मू कश्मीर के श्रीनगर बेस कैंप पर लड़ाकू विमान मिग-29 की तैनाती की गई है। पहले यहां मिग-21 की तैनाती थी। लड़ाकू विमान मिग-29 मिग-21 से कहीं अधिक शक्तिशाली है। इसके अलावा कश्मीर में आतंकवाद विरोधी अभियानों के लिए भारतीय वायुसेना के गरुड़ विशेष बल की तैनाती की गई है।

🔹जवानों ने शुरू किए घातक अभ्यास

यह भी पढ़ें 👉  Weather Update :उत्तराखंड के पर्वतीय इलाकों में रिमझिम बूंदाबांदी के आसार,मैदानी इलाकों में मौसम शुष्क

   पाकिस्तान सीमा से सटे इलाकों में भारतीय जवानों की सक्रियता बढ़ाने वाले कई वीडियो न्यूज एजेंसी एएनआई ने ट्वीट किए। इन वीडियो में मिग-29 की तैनाती के साथ-साथ भारतीय वायुसेना के गरुड़ विशेष बल के जवानों की सक्रियता साफ तौर पर देखी जा सकती है। साथ ही भारतीय जवानों ने कई घातक अभ्यास भी शुरू किए। भारतीय जवानों की गतिविधियों में हुई तेजी को लेकर पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में चिंता देखी जा रही है।

🔹स्क्वाड्रन लीडर ने बताया वजह- क्यों हुई मिग-29 की तैनाती

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में बेस कैंप पर मिग-21 लड़ाकू विमानों की जगह मिग-29 लड़ाकू विमान तैनात किए जाने के संबंध में भारतीय वायु सेना के पायलट स्क्वाड्रन लीडर विपुल शर्मा ने बताया कि श्रीनगर कश्मीर घाटी के मध्य में स्थित है और इसकी ऊंचाई मैदानी इलाकों से अधिक है।उन्होंने आगे बताया कि अधिक वेट-टू-थ्रस्ट अनुपात और सीमा के निकट होने के कारण कम प्रतिक्रिया समय वाला विमान रखना रणनीतिक रूप से बेहतर है और बेहतर एवियोनिक्स और लंबी दूरी की मिसाइलों से सुसज्जित है। मिग-29 सभी मानदंडों पर खरा उतरता है।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :ऑनलाइन कार बुकिंग कर रहे युवक के खाते से साइबर ठग ने उडाए इतने लाख रुपए,अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज

🔹15 अगस्त को लेकर सक्रियता बढ़ी

भारतीय जवानों की यह सक्रियता 15 अगस्त को लेकर बढ़ाई गई है। मालूम हो कि 15 अगस्त को भारत का स्वतंत्रता दिवस है वहीं इससे एक दिन पहले 14 तारीख को पाकिस्तान अपना स्थापना दिवस मनाता है। ऐसे महत्वपूर्ण मौकों पर अशांति फैलाने वाले तत्वों से लेकर तस्करी जैसी अवैध गतिविधियों में लिप्त लोग कोई गड़बड़ी न कर दे, इसी के मद्देनजर भारतीय सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल के जवान और अधिकारी खास निगरानी रखते हैं।