Haldwani News :वनभूलपुरा में हिंसा के फरार चल रहे दो वांटेड सहित कुल 10 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार,68 उपद्रवियों में से 58 को भेजा जा चुका है जेल

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड के नैनीताल जिले में हल्द्वानी के वनभूलपुरा में हुई हिंसा के बाद पुलिस का सख्त 10 दिन बाद भी जारी है। हल्द्वानी हिंस के बाद पुलिस फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

इसी कड़ी में पुलिस ने दो वांटेड सहित 10 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आरोप है कि हिंसा को भड़काने के साथ आरोपियों ने दंगाइयों को पेट्रोल बम मुहैया करवाया था।

आठ फरवरी को हल्द्वानी के वनभूलपुरा क्षेत्र में हुई हिंसा के फरार चल रहे दो वांटेड सहित कुल 10 आरोपियों को पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों से पुलिस ने पीएसी के जवान से लूटे गए कारतूस और पेट्रोल बम बनाने के लिए एकत्र किया 9 लीटर पेट्रोल भी बरामद किया है। अभी तक पुलिस वनभूलपुर हिंसा मामले में 68 उपद्रवियों को गिरफ्तार चुकी है।

वहीं मामले के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक और उसके बेटे अब्दुल मोईद सहित चार वांटेड अभी फरार चल रहे हैं। सोमवार को पुलिस ने हल्द्वानी हिंसा मामले में फरार चल रहे मालिक का बगीचा वार्ड 31 निवासी तस्लीम कुरैशी पुत्र साबिर कुरैशी और लाइन नंबर 18 निवासी वसीम सिद्दीकी उर्फ हप्पा पुत्र अनीश अहमद को गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :उत्तराखंड में कांग्रेस के सचिन पायलट आज करेंगे चुनावी रैली,प्रकाश जोशी के समर्थन में करेंगे जनसभा

इनके साथ-साथ पुलिस ने हिंसा के दौरान उपद्रव करने, आगजनी व पथराव करने वालों में शामिल मोहम्मद शोएब पुत्र सईद अहमद, अनस पुत्र यासीन, अयान पुत्र अकील अहमद, अरबाज पुत्र हसीन अहमद, शहराज हुसैन पुत्र अशफाक हुसैन, मोहम्मद वसीम पुत्र अब्दुल गफार, नाजिम पुत्र मोहम्मद उमर और मोहम्मद उजैर पुत्र मोहम्मद तुफैल को भी गिरफ्तार किया है।

छानबीन के दौरान पुलिस को आरोपी शुएब के पास से पीएसी जवान के लूटे गए कारतूस और आरोपी अरबाज के घर से 2 जरीकेन में रखा नौ लीटर पेट्रोल भी बरामद किया है। मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी प्रह्लाद नारायण मीणा ने बताया कि आरोपी अरबाज ने पेट्रोल बम बनाने के लिए ईंधन सप्लाई किया था।

बताया कि पुलिस अभी तक हल्द्वानी हिंसा मामले के 68 उपद्रवियों को गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं 58 आरोपियों को जेल भेजा जा चुका है। बता दें कि मामले में वांटेड घोषित हुए मास्टरमाइंड अब्दुल मालिक, उसका बेटा अब्दुल मोईद, एजाज उर्फ एयाज और रईस उर्फ दत्तू अभी फरार चल रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :यहा शहर के पॉश इलाके में दिनदहाड़े लूटपाट,कारोबारी के परिवार को बंधक बना की लूटपाट,बेटे व छोटे भाई का किया अपहरण

💠पेट्रोल पंप भी जांच के दायरे में आए

हल्द्वानी हिंसा में पत्थरबाजी, आगजनी के साथ पुलिस कर्मियों पर पेट्रोल बम का भी इस्तेमाल हुआ था। पुलिस ने फरार आरोपियों के पकड़ने के साथ ही अब पेट्रोल पंपों की जांच करनी शुरू कर दी है।

हिंसा की जांच कर रही पुलिस सीसीटीवी फुटेज समेत मोबाइल वीडियो भी खंगाल रही है। आरोपियों को पकड़ने के लिए उनकी पहचान कर कई टीमें छापेमारी करने में जुटी हुई है।

💠हिंसा के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक व एजाज के घर की कुर्की

हिंसा का मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक व उसका बेटा अब्दुल मुईद फरार चल रहे हैं। पुलिस ने मलिक के घर की कुर्की कर दी है। मलिक के बाद पुलिस ने रविवार को आरोपी अजाज के घर की भी कुर्की कर दी है। अजीज अभी भी फरार चल रहा है।

पुलिस सूत्रों की बात मानें तो फरार अजीज की गिरफ्तारी के लिए कई टीमें काम कर रही है। सर्विलांस के साथ ही सूत्रों की मदद से अजीज की धड़-पकड़ की कोशिश जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *