France accepted Upi:फ्रांस में लॉन्च हुआ UPI, अब पेरिस जाने वाले भारतीय टूरिस्ट को मिलेगा ये फायदा    

ख़बर शेयर करें -

पेरिस के प्रतिष्ठित एफिल टॉवर में यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) को औपचारिक रूप से लॉन्च किया गया है. फ्रांस की इस मशहूर जगह पर UPI की लॉन्चिंग की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सराहना की है।

उन्होंने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट X पर अपने आधिकारिक हैंडल से लिखा, “यह देखकर बहुत अच्छा लगा – यह यूपीआई को वैश्विक स्तर पर ले जाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है. यह डिजिटल भुगतान को प्रोत्साहित करने और मजबूत संबंधों को बढ़ावा देने का एक अद्भुत उदाहरण है.”

फ्रांस में भारतीय दूतावास ने शुक्रवार ( 2 फरवरी) को कहा कि यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) को औपचारिक रूप से पेरिस के एफिल टॉवर में लॉन्च किया. इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के “UPI को वैश्विक स्तर पर ले जाने के दृष्टिकोण” का हिस्सा बताया गया. अब लोग UPI के जरिए एफिल टावर के टिकट बुक कर सकेंगे .

🔹भारत फ्रांस के बीच UPI को लेकर हुआ है करार

भारत-फ्रांस के संयुक्त बयान के अनुसार, 2023 में भारत और फ्रांस डिजिटल लेनदेन में पूर्ण भागीदारी सुनिश्चित करने वाले सहयोग बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं. एनपीसीआई इंटरनेशनल पेमेंट्स लिमिटेड (एनआईपीएल) और फ्रांस की लाइरा कलेक्ट ने फ्रांस और यूरोप में यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) को लागू करने के लिए एक समझौते को अंजाम दिया है. न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल जुलाई में अपनी फ्रांस यात्रा के दौरान, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की थी कि भारत और फ्रांस यूपीआई भुगतान प्रणाली का उपयोग करने पर सहमत हुए हैं और इसकी शुरुआत प्रतिष्ठित एफिल टॉवर से होगी. पीएम मोदी ने कहा कि फ्रांस में भारतीय पर्यटक अब रुपये में भुगतान कर सकेंगे.

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :वित्त मंत्री डॉ. प्रेमचंद अग्रवाल ने केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से की शिष्टाचार भेंट

🔹’भारतीय पर्यटक अब एफिल टॉवर पर यूपीआई के माध्यम से रुपये में भुगतान कर सकेंगे’

14 जुलाई को पेरिस के ला सीन म्यूजिकल में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “चाहे वह भारत का यूपीआई हो या अन्य डिजिटल प्लेटफॉर्म, उन्होंने देश में एक बड़ा सामाजिक परिवर्तन लाया है. मुझे खुशी है कि भारत और फ्रांस यूपीआई का उपयोग करने पर सहमत हुए हैं. आने वाले दिनों में इसकी शुरुआत एफिल टॉवर से की जाएगी, जिसका मतलब है कि भारतीय पर्यटक अब एफिल टॉवर पर यूपीआई के माध्यम से रुपये में भुगतान कर सकेंगे.”

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :उत्तराखंड सरकार उपद्रवियों के खिलाफ लगातार एक्शन ले रही है, अब दंगाइयों के घर जाकर पैसा वसूलेगी सरकार

🔹फ्रांस के राष्ट्रपति ने UPI से किया था भुगतान

बता दें कि हाल ही में फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने मुख्य अतिथि के रूप में गणतंत्र दिवस परेड में भाग लेने के लिए भारत का दौरा किया. अपनी यात्रा के दौरान, मैक्रों और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जयपुर में एक चाय की दुकान पर गए और चाय पीते हुए एक-दूसरे से बातचीत की. मैक्रों ने वहां पेमेंट करने के लिए यूपीआई का इस्तेमाल किया. इससे पहले, पीएम मोदी ने मैक्रों को यूपीआई डिजिटल भुगतान प्रणाली के बारे में समझाया.

यूपीआई भारत की मोबाइल-आधारित भुगतान प्रणाली है, जो वर्चुअल माध्यम से चौबीसों घंटे भुगतान करने की अनुमति देती है. यूपीआई एक ऐसी प्रणाली है जो कई बैंक खातों को एक ही मोबाइल एप्लिकेशन में मर्ज कर वर्चुअल भुगतान को आसान करती है. इससे देश में ऑनलाइन लेनदेन काफी आसान हुआ है और बड़े पैमाने पर लोग इसका इस्तेमाल कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *