Almora News:जिनसे बुढ़ापे में थी सहारे की आस,पिता की उसकी ही औलादों ने कर दी निर्मम हत्या,आरोपी गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें -

जिन बच्चों के लिए जिंदगीभर कमाया उन्ही औलादों ने मिलकर अपने ही पिता की बेरहमी से हत्या कर दी।अल्मोड़ा जिले में एक ऐसा मामला सामने आया है कि हर कोई दंग रह गया। बच्चों की इस हरकत से पुलिस भी दंग रह गई है। अल्मोड़ा जिले के लमगड़ा थाने से 30 किमी दूर भागादेवली गांव में दो बेटियों व बेटे ने बड़ी बेटी के प्रेमी के साथ मिलकर आईटीबीपी से रिटायर्ड पिता की निर्मम हत्या कर दी।

🔹जाने मामला 

सेवानिवृत्ति के बाद वह रहने के लिए गांव आ गए, जबकि उनकी बड़ी बेटी डिंपल, बेटा रितिक और छोटी नाबालिग बेटी देहरादून में पिता के सरकारी क्वाटर मे रहते थे। 28 दिसम्बर को दोनों बेटियां, बेटा और बड़ी बेटी का प्रेमी हर्षवर्धन पुत्र प्रसादी लाल निवासी संगम विहार दिल्ली गांव पहुंचे। 

एसएसपी ने आज मामले का खुलासा करते हुए बताया कि गत दिवस 29 दिसंबर, 2023 को वादी ओमप्रकाश निवासी ग्राम भांगादेवली थाना लमगडा जिला अल्मोड़ा द्वारा थाना लमगड़ा में एक तहरीर दी गई थी। जिसमें बताया गया था कि उनके भाई सुंदर लाल पुत्र दुर्गा राम की उसके ही दो पुत्रियों, एक पुत्र व एक अन्य युवक ने मिलकर हत्या कर दी है।

यह भी पढ़ें 👉  Almora Breaking News :5 दिन से लापता युवक का विश्वनाथ नदी में मिला शव

🔹एक बेटी है नाबालिग 

इस मामले में पुलिस ने मृतक के बच्चे डिंपल 25 वर्ष, एक विधि विवादित नाबालिग किशोरी, रीतिक विश्वकर्मा उम्र 21 वर्ष तथा एक अन्य युवक हर्षवर्धन को अभियुक्त बनाया था। यह सभी हाल में ITBP कैम्पस सीमाद्वार थाना बसन्तपुर जिला देहरादून रह रहे हैं। इनका स्थायी पता ग्राम भांगादेवली थाना लमगड़ा जिला अल्मोड़ा है। इनमें से हर्ष वर्धन पुत्र प्रसादी लाल मकान नंबर 2117, गली नंबर 16 संगम बिहार दिल्ली का रहने वाला है। इन सभी के खिलाफ मृतक के भाई सुंदर लाल पुत्र दुर्गा राम निवासी ग्राम भांगादेवली थाना लमगड़ा जिला अल्मोड़ा द्वारा एफआईआर दर्ज की गई।

🔹पुलिस जांच में उगले राज

पुलिस जांच में पता चला कि इन चारों ने अपने पिता के हाथ बांधकर लाठी—डंडे व दराती से हत्या कर दी। जिसके आधार पर धारा 302 भादवि के अन्तर्गत बनाम रितिक विश्वकर्मा आदि के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत किया गया।थानाध्यक्ष लमगड़ा दिनेश नाथ महंत द्वारा थाना लमगड़ा पुलिस टीम को साथ लेकर मामले में त्वरित कार्यवाही करते हुए मृतक सुंदर लाल के शव का पंचनामा तैयार कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। मुकदमे के संबंध में मृतक की पुत्री डिंपल, नाबालिग किशोरी, पुत्र रीतिक विश्वकर्मा तथा हर्ष वर्धन को आज तड़के ही भांगादेवली लमगड़ा से गिरफ्तार कर लिया। साथ ही हत्या में प्रयुक्त हथियार भी बरामद कर लिये 

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :व्यापार मंडल के छह पदों के लिए 25 दावेदारों ने खरीदे नामांकन पत्र

🔹पूछताछ में हुआ यह खुलासा

पूछताछ पर हत्या के सम्बन्ध में मृतक के पुत्र व पुत्रियो द्वारा बताया गया कि हमारे पिताजी ITBP से रिटायर आकर हमारे चाचा के परिवार के साथ गांव भांगादेवली लमगड़ा में रह रहे थे। हम लोग देहरादून में पढाई करते है। उनके पिता उनको पढ़ाई व रहने—खाने का कोई पैसा नही दे रहे थे। जिस कारण डिंपल द्वारा अपने दोस्त हर्ष वर्द्धन को दिल्ली से बुलाया। फिर उक्त चारों ने योजना बनाकर गत रात्रि को अपने पिता सुंदर लाल की घर में हाथ बांधकर हत्या कर दी।पुलिस ने हत्याकांड में प्रयुक्त दो डंडे व एक दराती भी बरामद की है।

पुलिस टीम 

1- SO दिनेश नाथ महन्त थाना लमगडा

2- उ0नि0  सुनील कुमार

3- अपर उ0नि0 विक्रम सिंह

4- हेड कानि0  दीवान राम

5- हेड कानि0देवराज सिंह

6- कानि0  अर्जुन लाल

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *