Almora News :यहा अल्मोड़ा पुलिस ने गांजा,शराब के बाद अब स्मैक तस्कर को किया गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें -

एसएसपी अल्मोड़ा के कुशल नेतृत्व में अल्मोड़ा पुलिस का नशे के सौदागरों पर कड़ा प्रहार

💠गांजा,शराब के बाद अब स्मैक तस्कर को किया गिरफ्तार

जनपद ANTF/SOG व अल्मोड़ा पुलिस की संयुक्त टीम को मिली बड़ी कामयाबी, पकड़ी स्मैक की जनपद में अब तक की सबसे बड़ी खेप  

32 लाख कीमत की 320 ग्राम स्मैक  के साथ शाहजहांपुर का 01 तस्कर हुआ गिरफ्तार,पहाड़ी क्षेत्रों में ऊंचे दामों में बेचकर मुनाफा कमाने का था इरादा

💠एसएसपी ने पुलिस टीम को 5 हजार के ईनाम से किया पुरस्कृत 

 मा0 मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड, श्री पुष्कर सिंह धामी जी द्वारा प्रदेश को वर्ष 2025 तक नशामुक्त करने हेतु “ड्रग्स फ्री देवभूमि मिशन 2025” प्रारम्भ किया गया है।  

श्री देवेन्द्र पींचा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अल्मोड़ा द्वारा जनपद पुलिस की कमान सभालने के साथ ही नशे के विरुद्ध कार्य को अपनी प्राथमिकताओं में रखते हुए जनपद के थाना प्रभारियों व एएनटीएफ/एसओजी टीम को नशे के विरुद्ध जीरो टोलेरेन्स रखते हुए कार्यवाही करने के सख्त निर्देश दिये गये थे।

एसएसपी अल्मोड़ा द्वारा नशे के विरुद्ध  चलाई गई मुहिम का परिणाम है कि जनपद पुलिस द्वारा लगातार भारी मात्रा में मादक पदार्थों की बरामदगी करते हुए, नशा तस्करों की ताबड़तोड़ गिरफ्तारियां की जा रही है।

 पूर्व में पकड़े गये अभियुक्त व नशे की गिरफ्त में फँसे युवाओं की करायी जा रही काउंसलिंग में  प्रकाश में आये  तथ्यों से यह ज्ञात हुआ कि नशे का कारोबार फैलाने के लिए तराई क्षेत्रों से तस्कर बड़ी मात्रा में स्मैक लाकर पहाड़ों में लोगों को बेच रहे हैं, साथ  ही यह भी तथ्य सामने आये थे कि तस्कर अक्सर रात्रि के समय बाईक या अन्य वाहनों के जरिये आते है ताकि चेकिंग आदि से बच सके, जिसके चलते एसएसपी महोदय द्वारा एएनटीएफ/एसओजी की टीम को रात्रि में अधिक  सतर्कता बरतते हुए संदिग्ध वाहनों/व्यक्तियों की चेकिंग करने के निर्देश दिये गये थे, जिसके क्रम में एएनटीएफ/एसओजी व  कोतवाली अल्मोड़ा की पुलिस टीम द्वारा चेकिंग के दौरान लोधिया से क्वारब की ओर धर्मकांटे के पास मोड़ पर एक बाईक सवार को रोका गया,जिसकी संदिग्ध प्रतिक्रिया के चलते सख्ती से पूछताछ की गयी तो पकड़े गये व्यक्ति ने स्वयं के पास स्मैक होने की बात पुलिस को बतायी,  जिसकी सूचना पुलिस टीम द्वारा उच्चाधिकारीगणों को दी गयी,जिसके चलते क्षेत्राधिकारी अल्मोड़ा स्वयं मौके पर पहुँचे व अभियुक्त की तलाशी में उसके पास से 320 ग्राम स्मैक व एक इलैक्ट्रानिक तराजू बरामद हुआ। भारी मात्रा में बरामद हुई स्मैक के बारे में अभियुक्त से पूछने पर उसके द्वारा बताया गया कि वह स्मैक बेरा फरीदपुर से एक व्यक्ति से लेकर आ रहा है। अभियुक्त का उद्देश्य पहाड़ी क्षेत्रों में स्मैक के नशे को बढ़ावा देकर मांग उत्सर्जित करते हुए युवाओं को नशे के जाल में फसाँकर अवैध नशे के कारोबार को अधिक से अधिक फैलाकर लाभ कमाना था । अभियुक्त को गिरफ्तार कर एनडीपीएस एक्ट के तहत कोतवाली अल्मोड़ा में एफआईआर पंजीकृत की गई है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :10 मई को खुलेंगे यमुनोत्री धाम के कपाट, शुभ मुहूर्त भी हुआ तय

अभियुक्त द्वारा स्मैक जहां से लायी जा रही थी उसके स्त्रोत के साथ-साथ अल्मोड़ा व पहाड़ के अन्य जनपदों के सम्पर्क सूत्रों की जानकारी भी की जा रही है, संलिप्तता पाये जाने पर अन्य दोषियों के विरुद्ध भी सख्त कानूनी कार्यवाही की जायेगी । घटना में प्रयुक्त मोटर साईकिल बजाज प्लेटिना संख्या UP27 BE-3259 को भी पुलिस द्वारा कब्जे में ले लिया गया है, साथ ही अभियुक्त द्वारा अवैध रुप से अर्जित की गयी अन्य सम्पत्ति व आपराधिक इतिहास की भी जानकारी की जा रही है। अवैध रुप से अर्जित सम्पत्ति के विरुद्ध भी वैधानिक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी ।     

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :डायवर्जन प्लान पूरी तरह से प्लाप हुआ साबित,पूरा नगर जाम से जकड़ा रहा

💠पुरस्कार

एसएसपी अल्मोड़ा द्वारा जनपद में अब तक स्मैक की सबसे बड़ी खेप की बरामदगी कर नशा तस्कर को गिरफ्तार करने में शामिल पुलिस टीम को 5 हजार रुपये  के ईनाम से पुरस्कृत किया गया है।

💠गिरफ्तार अभियुक्त-

मोईन खान उम्र-27 वर्ष पुत्र नौशेर निवासी आमडार, थाना पुवाया, जिला शाहजहाँपुर (उ0प्र0) 

बरामदगी-320 ग्राम स्मैक व 01 इलेक्ट्रानिक तराजू

कीमत-32,00,000 रुपये(बत्तीस लाख रुपये)

💠पुलिस टीम का नाम-

1- क्षेत्राधिकारी अल्मोड़ा श्री विमल प्रसाद 

2- उप निरी० श्री सुनील सिह धानिक प्रभारी एसओजी अल्मोड़ा 

3- उप निरी० श्री सौरभ कुमार भारती, प्रभारी एएनटीएफ अल्मोड़ा

4- उप निरी० श्री दिनेश सिह, प्रभारी चौकी धारानौला,कोतवाली अल्मोड़ा।

5- कानि0 श्री राकेश भट्ट एसओजी/एएनटीएफ अल्मोड़ा

6- कानि0 श्री विरेन्द्र बिष्ट, एसओजी/एएनटीएफ अल्मोड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *