Almora News:चालकों की हड़ताल से जिले में 350 से अधिक ट्रक के पहिए जाम,पेट्रोल पंप और गैस का स्टॉक खत्म

ख़बर शेयर करें -

मैदानी क्षेत्रों से बीते दो दिन में सब्जी, रसोई गैस, ईधन, निर्माण सामग्री का एक भी वाहन जिले में नहीं पहुंचा है। वहीं रसोई गैस का स्टॉक खत्म हो गया है तो ईधन न होने से पेट्रोल पंप बंद हो गए हैं।हिट एंड रन कानून को लेकर नए कानून के खिलाफ चालकों की हड़ताल का व्यापक असर दिखने लगा है। चालकों की हड़ताल से जिले में 350 से अधिक ट्रक के पहिए जाम हैं, इससे आपूर्ति लड़खड़ाने लगी है।

🔹सिलिंडरों का स्टॉक पूरी तरह खत्म 

जिले में हर रोज सात से आठ ट्रक 400 से 600 क्विंटल सब्जी लेकर पहुंचते हैं। हड़ताल के चलते सब्जी की आपूर्ति नहीं हुई है और दुकानों में स्टॉक खत्म होने लगा है। इसी तरह जिले की आठ से अधिक एजेंसी पर रोजाना तीन हजार से अधिक सिलिंडर लेकर 14 ट्रक आते हैं अब वाहन न आने से नगर में संचालित चौघानपाटा, धारानौला एजेंसी में सिलिंडरों का स्टॉक पूरी तरह खत्म हो गया है। इस वजह से एजेंसी के गोदाम बंद हो गए हैं। वहीं खाद्य सामग्री के साथ ही निर्माण सामग्री का स्टॉक भी खत्म हो रहा है। 

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :अल्मोडा में कई विभागों का मीटर चालू लेकिन बत्ती होने वाली है गुल,ऊर्जा निगम ने 3336 उपभोक्ताओं को जारी किया नोटिस

🔹पंप में ईधन खत्म, भटकते रहे लोग

जिले में संचालित 32 हजार दो पहिया और चारपहिया वाहनों के लिए ईधन उपलब्ध कराने को आठ से अधिक पंप संचालित होते हैं। दो दिन से टैंकर न पहुंचने से अधिकांश पंप में ईधन का स्टॉक खत्म होने के कगार पर है। रानीखेत के पंप पर ईधन खत्म हो गया है। मंगलवार को पर्यटक और अन्य वाहन चालक ईधन के लिए पंप पर पहुंचे, लेकिन यहां नो पेट्रोल, डीजल का बोर्ड लगा होने से उन्हें मायूस होकर लौटना पड़ा। वर्षांत मनाने के लिए यहां पहुंचे कई पर्यटक ईधन न मिलने से घरों को भी नहीं लौट सके।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :शारीरिक दक्षता परीक्षा को लेकर तैयारियां शुरू,परीक्षा में 871 अभ्यर्थी होंगे शामिल

🔹रोडवेज बस न चलने से यात्री बेहाल

दूसरे दिन भी जिले के अल्मोड़ा और रानीखेत डिपो से संचालित 24 रोडवेज बस का संचालन ठप रहा। सभी बस वर्कशॉप में खड़ी रहीं और यात्री रोडवेज स्टेशन में इनका इंतजार करते रहे। इससे यात्रियों को दिक्कत का सामना करना पड़ा। केमू और टैक्सी के संचालन से उन्हें राहत मिली और वे गंतव्य को रवाना हुए। 

🔹आज टैक्सी भी नहीं चलेंगी 

अल्मोड़ा जिले में आठ हजार से अधिक टैक्सी वाहन पंजीकृत हैं, इनमें हर रोज 15 हजार से अधिक यात्री सफर करते हैं। महासंघ टैक्सी यूनियन कुमाऊं मंडल के आह्वान पर बुधवार को संचालकों ने टैक्सी का संचालन बंद करने का निर्णय लिया है। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *