Uttrakhand News :उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राष्ट्रीय जनसंपर्क दिवस पर दी शुभकामनाएं

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राष्ट्रीय जनसंपर्क दिवस पर इस क्षेत्र से जुड़े सभी लोगों को शुभकामनाएं दी है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ट्वीट कर यह जानकारी साझा की है।

सीएम धामी ने ट्वीट कर लिखा कि ‘राष्ट्रीय जनसंपर्क दिवस पर इस क्षेत्र से जुड़े सभी लोगों को शुभकामनाएं। जनसंपर्क जनहित से जुड़े कार्यों को आसानी से जनता के बीच पहुंचाने का माध्यम है। इसके माध्यम से किसी भी सरकारी-गैर सरकारी संस्थान, संगठन के कार्यों को जनता तक प्रभावी रूप से पहुंचाया जा सकता है। सही सूचनाओं के आदान-प्रदान हेतु भी जनसंपर्क बेहद जरूरी है।’

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :शराब की दुकान बंद करने की मांग पर महिलाओं और बच्चों ने निकाला जुलूस और दिया धरना

आपको बता दें कि 21 अप्रैल को भारतीय जनसंपर्क के इतिहास में एक महत्वपूर्ण दिन है। ऐसा इसलिए कि 1986 से पूरे देश में इस दिन राष्ट्रीय जनसंपर्क दिवस मनाया जाता है।

पहला अखिल भारतीय जनसंपर्क सम्मेलन 21 अप्रैल 1968 को दिल्ली में आयोजित किया गया था। सम्मेलन का विषय व्यावसायिक दृष्टिकोण था। यह हमारे देश में एक बहुत ही महत्वपूर्ण जनसंपर्क बैठक थी। जब पीआर पेशे के लिए आचार संहिता को अपनाने के अलावा जनसंपर्क के लिए एक पेशेवर दृष्टिकोण दिया गया था। यह भारत में व्यावसायिक जनसंपर्क की शुरुआत थी।

यह भी पढ़ें 👉  Weather Update :पहाड़ में अगले तीन दिन तक बारिश की संभावना,मैदानी क्षेत्रों में चलेंगी झोंकेदार हवाएं

तब से पीएसआरआई ने 26 अखिल भारतीय पीआर सम्मेलन आयोजित किए हैं। जिनमें 1982 में मुंबई में 9वां पीआर विश्व कांग्रेस और 1998 के दौरान कोलकाता में पहली एशिया प्रशांत पीआर बैठक और 2002 में बेंगलुरु में अंतरराष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन शामिल है।

21 अप्रैल को राष्ट्रीय जनसंपर्क दिवस के रूप में मनाने के पीछे का उद्देश्य भारत में जनसंपर्क समारोह और जनसंपर्क पेशेवरों पर ध्यान केंद्रित करना है। जिनकी देश के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका है। इसमें चयनित मुद्दों को उजागर करने के लिए कार्यक्रम आयोजित करने के लिए विशिष्ट विषय की पहचान दी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *