Uttrakhand News :राम झूला पुल पर मंडराता खतरा,पुल के नीचे सुरक्षा दीवार बही,वाहन संचालन होगा

ख़बर शेयर करें -

💠पुल पर रोकी गई आवाजाही, एक बॉर्डर मार्ग सहित 215 सड़कें बाधित

💠विकास नगर तहसील क्षेत्र के जाखन में भूस्खलन से 28 परिवार प्रभावित

💠राज्य में अतिवृष्टि से अब तक 75 की मौत, 43 घायल और 19 लापता

देहरादून, 17 अगस्त (हि.स.)। राज्य में अभी लोगों को बारिश से निजात पाना संभव प्रतीत नहीं हो रहा है। माैसम विभाग द्वारा 21 अगस्त तक के लिए जारी येलो अलर्ट से तो कम से कम यही लग रहा है। भारी बारिश के कारण जहां ऋषिकेश में मुनिकीरेती स्थित राम झूला पुल का पुस्ता ढह गया है, वहीं विकास नगर तहसील क्षेत्र के जाखन में कल हुए भूस्खलन में सभी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। प्रदेश के एक बॉर्डर मार्ग सहित 215 अन्य सड़कें बाधित हैं। इन अवरुद्ध मार्गों को खोलने का कार्य जारी है।

💠मानसून सीजन में अतिवृष्टि से 15 मार्च से लेकर अब तक कुल 75 लोगों की मौत हुई और 43 घायल हुए हैं। 

गुरुवार सुबह से लेकर शाम तक देहरादून सहित प्रदेश के अधिकतर स्थानों पर मौसम खुला रहा। हालांकि आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए हुए हैं। हल्की बूंदाबादी हुई। मैदानी इलाकों में चिलचिलाती धूप से मौसम में उमस का प्रभाव बना हुआ है। राज्य में मानसून सीजन में अतिवृष्टि से 15 मार्च से लेकर अब तक कुल 75 लोगों की मौत हुई और 43 घायल हुए हैं। साथ ही 19 लोग लापता हैं। लापता लोगों को खोजने के लिए सर्च अभियान जारी है।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News:एमबीपीजी कालेज में छात्रसंघ अध्यक्ष पर प्राथमिकी दर्ज होने से गुस्साए समर्थक छात्रों ने परिसर में जमकर किया हंगामा,विद्यार्थियों को खदेड़ते हुए गेटों को करा दिया बंद

💠राम झूला पुल पर पर्यटकों की आवाजाही रोक दी गई है। 

भारी बारिश के कारण जनपद टिहरी और पौड़ी को जोड़ने के साथ देश-विदेश से आने वाले करोड़ों पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बने ऋषिकेश में मुनिकीरेती स्थित राम झूला पुल के नीचे का पुस्ता बह जाने के कारण पर्यटकों और वाहनों की आवाजाही को बंद कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि गंगा के उफान पर आने की वजह से इस पुस्ते को नुकसान हुआ है। सुरक्षा की दृष्टि से एसडीएम के निर्देश पर राम झूला पुल पर पर्यटकों की आवाजाही रोक दी गई है। जिला प्रशासन का कहना है कि पीडब्ल्यूडी की टीम निरीक्षण कर रही है। रिपोर्ट आने के बाद ही पुल पर आवागमन शुरू होगी।

💠उधर,देहरादून जिले के विकास नगर तहसील क्षेत्र के ग्राम मदर्सू मजरा जाखन में 16 अगस्त को भूस्खलन से 9 मकान धंसने के बाद राहत और बचाव कर सभी लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है। कुल 28 परिवार प्रभावित है। इन परिवारों के लगभग 150 लोगों को जूनियर हाईस्कूल पस्टा में शिफ्ट किया गया है। कुल 12 भवन क्षतिग्रस्त में 10 पूरी तरह से और 02 आंशिक के अलावा सात गोशाला का नुकसान हुआ है। ध्वस्त मकान में फंसे पशुओं को सुरक्षित निकालकर ग्रामवासियों के सुपुर्द कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :एसएसपी अल्मोड़ा के निर्देशन में जनपद के थाना क्षेत्रों में चली वेरिफिकेशन ड्राइव,जनमानस को किरायेदार सत्यापन के लिए किया जागरूक

💠एसडीआरएफ के कमांडेंट मणिकांत मिश्रा ने लांघा रोड विकासनगर पहुंचकर भूस्खलन की जद में आए जाखण गांव में राहत एवं बचाव अभियान का जायज़ा लिया। इस दौरान गांव का स्थलीय निरीक्षण कर टीमों को शीघ्रता से राहत और बचाव कार्यों को करने के लिए दिशा निर्देश दिए।

💠मौसम विभाग की ओर से जारी पूर्वानुमान में आज (गुरुवार) को आठ जिलों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। प्रदेश भर में 18 अगस्त के लिए गरज चमक के साथ कहीं-कहीं भारी बारिश के तीव्र से अति तीव्र दौर को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग ने प्रदेश में 21 अगस्त तक के लिए येलो अलर्ट जारी किया।

💠राज्य आपदा प्रचलन केंद्र के मुताबिक प्रदेश में 09 राज्य मार्ग, पिथौरागढ़ जिले में 01 बॉर्डर सहित कुल 215 सड़कें बाधित हैं। लोक निर्माण विभाग की ओर से बंद मार्गों को खोलने के लिए कुल 246 जेसीबी मशीनें लगाई गई है।