Uttrakhand News :सीएम धामी मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ने को है तैयार, जानिए वजह

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ‘एक देश-एक चुनाव’ का रास्ता साफ करने के लिए 3 साल पहले कुर्सी छोड़ने को तैयार हैं। सीएम धामी ने कहा-एक बार में चुनाव होने से विकास कार्यों में तेजी आएगी।खर्च भी बचेगा। 

💠एक भारत-श्रेष्ठ भारत के लिए, ‘एक देश-एक चुनाव’ प्रक्रिया सहायक साबित होगी। शुक्रवार को देहरादून में ओल्ड मसूरी रोड स्थित हयात रीजेंसी में ‘हिन्दुस्तान’ शिखर समागम का आयोजन किया गया।

💠कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र ‘प्रकृति का प्रगति पथ’ में सीएम पुष्कर सिंह धामी ने बतौर मुख्य अतिथि देश के विकास,प्रकृति एवं पर्यावरण सहित विभिन्न मुद्दों पर विचार रखे। समारोह में एक देश-एक चुनाव की पहल को लेकर पूछे सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि 5 वर्षों में एक बार चुनाव होने से देश को बहुत सुविधा होगी। अभी लोकसभा, विधानसभा, निकाय से लेकर पंचायत के चुनाव अलग-अलग वक़्त पर होने से थोड़े-थोड़े अंतराल में सरकारी मशीनरी व्यस्त रहती है। इससे जहां विकास की प्रक्रिया प्रभावित होती है, वहीं खर्च भी बढ़ता है। ऐसे में एक भारत-श्रेष्ठ भारत के निर्माण के लिए, एक देश-एक चुनाव की प्रक्रिया बहुत उपयोगी साबित होगी।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :भारी बारिश से कच्चे घर के ऊपर मलबा गिरने से हुआ हादसा, एक व्यक्ति की मौत हो गई जबिक एक घायल

💠उत्तराखंड के लिहाज से बात करें तो क्या आप, तय वक़्त से 3 वर्ष पूर्व एक साथ चुनाव के लिए तैयार होंगे? इस सवाल पर मुख्यमंत्री धामी ने बिना संकोच के जवाब दिया कि निश्चित तौर पर ऐसा होना चाहिए। बकौल धामी, मेरे लिए देश पहले आता है। दूसरे नंबर पर पार्टी और आखिर में व्यक्ति आता है। ऐसे में देशहित में जो भी फैसला होगा, उसके सामने पद या व्यक्तिगत सफलता के कोई मायने नहीं हैं, इसलिए पीएम नरेंद्र मोदी की ‘एक देश-एक चुनाव’ पहल का हर किसी को स्वागत करना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी देशों का अंग्रेजी और उनकी मूल भाषा में एक ही नाम होता है इसलिए अपने देश का एक नाम ‘भारत’ ही ठीक है। विपक्ष इस पर बिना कारण विवाद कर रहा है। विपक्ष द्वारा भारत नामकरण को उनके गठबंधन पर आधारित बताए जाने पर धामी ने कहा कि,विपक्ष का गठबंधन मूल तौर पर UPA गठबंधन ही है।