Uttrakhand News :सीएम धामी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक,गन्ना मूल्य में हुई 20 रुपये की वृद्धि

ख़बर शेयर करें -

पुष्कर सिंह धामी सरकार लोकसभा चुनाव से पहले प्रदेश के कर्मचारियों को खुश करने में कसर नहीं छोड़ रही है। बाल्य देखभाल अवकाश पर रहने वाले कार्मिकों को अब 365 दिन बाद यानी लगातार दूसरे वर्ष भी प्राप्त हो रहे वेतन के समान अवकाश वेतन दिया जाएगा।

इसके साथ में वैयक्तिक सहायक संवर्ग में पदोन्नति के अवसर बढ़ाते हुए वरिष्ठ वैयक्तिक अधिकारी का नया पद सृजित करने को मंत्रिमंडल ने स्वीकृति दी। किसानों को बड़ी राहत देते हुए गन्ना मूल्य में 20 रुपये प्रति क्विंटल की वृद्धि करने का निर्णय भी लिया गया है।

💠सीएम धामी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक

गन्ने के अगेती प्रजाति के लिए 375 रुपये और सामान्य प्रजाति के लिए 365 रुपये प्रति क्विंटल मूल्य निर्धारित किया गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में बुधवार को सचिवालय में मंत्रिमंडल की बैठक में प्रदेश के कार्मिकों व गन्ना किसानों के हित में महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। कर्मचारी संगठनों की मांगों और उनकी समस्याओं के निराकरण को लेकर सरकार लंबे समय से उदार रुख अपनाए हुए है।

💠आंशिक संशोधन को दिखाई हरी झंडी

मंत्रिमंडल के निर्णयों की जानकारी मुख्य सचिव डा एसएस संधु ने दी। उन्होंने बताया कि महिला सरकारी सेवकों अथवा महिला व पुरुष एकल अभिभावक को बाल्य देखभाल अवकाश में दूसरे वर्ष भी अवकाश वेतन का शत-प्रतिशत मिलेगा। मंत्रिमंडल ने इस संबंध में एक जून, 2023 के शासनादेश में आंशिक संशोधन को हरी झंडी दिखाई।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :आप की अदालत' में रजत शर्मा के तीखे सवालो के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दिए बखूबी जवाब, जानिए किन मुद्दों पर पूछे गए सवाल

बाल्य देखभाल अवकाश संपूर्ण सेवाकाल में अधिकतम दो वर्ष यानी 730 दिन के लिए दिया जाता है। अभी तक कार्मिक को पहले 365 दिन अवकाश वेतन का 100 प्रतिशत और अगले 365 दिन में अवकाश वेतन का 80 प्रतिशत देने का निर्णय लिया गया था। अब उन्हें कुल अवकाश अवधि के दौरान पूरा वेतन मिलेगा।

💠पदोन्नति के अधिक अवसर का रास्ता हुआ साफ

मंत्रिमंडल ने वैयक्तिक सहायक संवर्ग में पदोन्नति के अधिक अवसर का रास्ता साफ कर दिया। स्टाफिंग पैटर्न के अंतर्गत 4800 ग्रेड वेतन में वरिष्ठ वैयक्तिक अधिकारी का पद सृजित करने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए संशोधित स्टाफिंग पैटर्न को स्वीकृति दी गई है।

💠गन्ना मूल्य में हुई 20 रुपये की वृद्धि

मंत्रिमंडल ने पेराई सत्र 2023-24 के लिए गन्ने का मूल्य और गन्ना विकास अंशदान की दर के निर्धारण पर मुहर लगाई। पिछले पेराई सत्र 2022-23 के लिए निर्धारित गन्ना मूल्य में 20 रुपये की वृद्धि करते हुए अगेती प्रजाति के लिए 375 रुपये प्रति क्विंटल और सामान्य प्रजाति के लिए 365 रुपये प्रति क्विंटल की दर तय की गई है। गन्ना विकास अंशदान (कमीशन) की दर 5.50 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित की गई। इसके परिणामस्वरूप गन्ना विकास समिति के कार्मिकों के वेतन व अन्य देयकों के भुगतान को 1.36 करोड़ की आर्थिक सहायता राज्य सरकार के स्तर से देने का निर्णय लिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :उत्तराखंड में सभी उपनल कर्मियों का 10 प्रतिशत बढ़ेगा मानदेय,शीघ्र होगा शासनादेश

💠कैबिनेट के प्रमुख निर्णय

गन्ने की अगेती प्रजाति के लिए 375 रुपये प्रति क्विंटल और सामान्य प्रजाति के लिए 365 रुपये प्रति क्विंटल मूल्य निर्धारित

हाउस ऑफ हिमालयाज ब्रांड को प्रोत्साहन के लिए सरकारी कंपनी बनाने पर सैद्धांतिक सहमति

वाइब्रेंट विलेज योजना के अंतर्गत उत्तरकाशी जिले के सीमांत गांव जादूंग में पर्यटन विकास को होम स्टे क्लस्टर योजना पर लगी मुहर

उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद के अधीन साहसिक विंग के कार्मिकों के ढांचे में विषय विशेषज्ञ के पदों की अर्हता में संशोधन को स्वीकृति

त्रिस्तरीय पंचायतों में चुनाव लड़ने के लिए दो से अधिक संतान से संबंधित निर्णय में संशोधन, अब जुड़वां बच्चे होने से अयोग्यता की नहीं लटकेगी तलवार

उत्तराखंड रिवर ड्रेजिंग नीति, 2021 में संशोधन को मिली स्वीकृति

भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग के पुनर्गठित ढांचे में छह जिला खान अधिकारी समेत सात पदों के सृजन को हरी झंडी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *