Uttrakhand News :उत्तराखंड के इस गांव में जंगली सुअरों का बड़ा आतंक,किसानों की फसल बर्बाद कर रहे सुअर, ग्रामीण परेशान

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड के बागेश्वर के लोग जंगली जानवरों का आतंक देखने को मिल रहा है। गोमती घाटी के कई गांवों में इन दिनों जंगली जानवरों का आतंक बना हुआ है। जंगली सुअरों के झुंड खेतों में घुसकर काश्तकारों की मेहनत पर पानी फेर रहे हैं।

💠परेशान काश्तकारों ने वन विभाग से जंगली सुअरों को मारने की अनुमति देने की मांग की है।

छ्त्यानी, मजकोट,रौल्याना, कुंझाली, सिमार, लोहागड़ी, ज्वणास्टेट समेत दर्जनों गांवों में जंगली सुअरों का आतंक बना हुआ है। सूअर न केवल फसलों और सब्जियों को तहस-नहस कर रहे हैं बल्कि अब ग्रामीणों पर हमला भी कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :उत्तराखंड बोर्ड की 10वीं और 12वीं की उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन का काम पूरा,30 अप्रैल को परीक्षा परिणाम घोषित किए जाने पर फोकस

💠किसानों की फसल बर्बाद कर रहे सुअर

जंगली सुअर फसल नष्ट कर खेतों में गड्ढे बना दे रहे हैं। रात भर झुंडों में घुसे सुअर खेतों में डेरा डाले रहते हैं। इस कारण पूरी फसलें बर्बाद हो रही हैं। किसान संगठन के जिलाध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद कत्यूरी, गोमती घाटी पूर्व सैनिक जन विकास समिति के अध्यक्ष कै.पुष्कर सिंह बिष्ट, भरत बिष्ट, हरक सिंह गुसाई, पुष्कर भंडारी आदि का कहना है कि जंगली सुअर लंबे समय से उनकी फसलों को चौपट कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  Haldwani News :योगी ने पहली बार उत्तराखंड में चुनावी जनसभा को किया संबोधित,जो राम को लाए हैं', उन्हें पुन: लाने का संकल्प ले लिया:योगी आदित्यनाथ

💠वन विभाग नहीं दिला रहा निजात

कई बार वन विभाग को सूचना देने के बाद भी न तो इनके आतंक से निजात दिलाई जा रही है और न ही उन्हें मुआवजा दिया जा रहा है। परेशान किसानों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि वन विभाग जंगली सुअरों की समस्या से निजात नहीं दिलाता है, तो उन्हें आंदोलन छेड़ने को बाध्य होना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *