अनोखी विदाई:ससुराल वालों ने किया प्रताड़ित, तो बैंड-बाजे के साथ बेटी को घर वापस ले आए पिता

ख़बर शेयर करें -

रांची में एक पिता ने बैंड- बाजे के साथ अपनी बेटी की विदाई कराकर अपने घर वापस ले आए हैं। पिता के इस कदम के बाद हर तरफ उनकी तारीफ हो रही है।

🔹जाने पूरा मामला 

हर एक पिता अपनी बेटी की शादी एक अच्छे घर और परिवार में करता है ताकि उसकी बेटी खुश और सुखी रहे। लेकिन कई परिवार दूसरे घर से आई लड़की को काफी प्रताड़ित करते हैं। कभी दहेज के लिए तो, कभी किसी दूसरे चीज के लिए। ऐसा ही एक मामला झारखंड के रांची से सामने आया है। दरअसल, रांची में ससुराल वालों से परेशान होकर एक पिता ने बैंड- बाजे के साथ अपनी बेटी की विदाई कराकर अपने घर वापस ले आए हैं। बेटी की इस अनोखी विदाई की चर्चा चारों ओर हो रही है और लोग पिता के इस कदम की जमकर तारीफ कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :यहां नगर के सिकुड़ा बैंड के पास हुआ सड़क हादसा,यात्रियों से भरी केमू बस और कार की हुई जोरदार टक्कर

🔹बैंड बाजे के साथ वापस लाए घर

आपको बता दें कि रांची में रहने वाली प्रेम गुप्ता नाम के एक व्यक्ति ने अपनी बेटी साक्षी की बड़े ही धूमधाम से शादी की थी। लेकिन शादी के कुछ दिन बाद से बेटी के ससुराल वाले उसे प्रताड़ित करने लगे। यह बात जब प्रेम गुप्ता को पता चली तो, वह आहत होकर अपनी बेटी को वापस अपने घर लाना का फैसला किया और उसे जैसे अपने घर से बैंड बाज के साथ विदा किया था, वैसे ही बैंड बाज के साथ वापस ले आए। जिसके बाद हर तरफ उनके इस कदम की तारीफ हो रही है।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :पूर्व दर्जामंत्री बिट्टू कर्नाटक ने मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार को जंगलों की आग से निपटने के लिए ठोस रणनीति बनाने की मांग का भेजा ज्ञापन

🔹साक्षी ने कही ये बात

बेटी साक्षी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वो बेहद किस्मत वाली हैं कि उसे ऐसे माता-पिता मिले। साक्षी ने आगे बताया कि उसने ससुराल पक्ष से काफी प्रताड़ना सहने के बाद भी रिश्ते को बचाने की पूरी कोशिश की लेकिन बात बन न सकी। फिलहाल तलाके के लिए कोर्ट की शरण में जाया गया है। लड़के ने गुजारा भत्ता देने पर सहमति जताई है। जल्द ही तलाक मिलने की उम्मीद है। वहीं प्रेम गुप्ता ने कहा कि बेटी की शादी बहुत धूमधाम से की जाती है और अगर जीवनसाथी और परिवार गलत निकलता है या गलत काम करता है तो अपनी बेटी को उसी आदर और सम्मान के साथ घर वापस लाना चाहिए। क्योंकि बेटियां बहुत अनमोल होती हैं।