National News:आज़ादी के 77 साल पर प्रधानमंत्री मोदी ने लगातार 10वीं बार लाल किले पर फहराया तिरंगा,देशवासियों को सम्बोधित करते हुए कही ये बाते

ख़बर शेयर करें -

प्रधानमंत्री ने लाल किले पर 10वीं बार झंडा फहराने के बाद अपने संबोधन में देशवासियों को बधाई दी। PM ने मणिपुर हिंसा, रिफॉर्म्स पर बात की। साथ ही अपनी सरकार के काम का 10 साल का हिसाब दिया। उन्होंने राजनीति से तीन बुराइयों परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टिकरण से मुक्ति की अपील भी की।

🔹दावा किया कि लाल किले पर 2024 में वे ही तिरंगा फहराएंगे

PM ने लोगों से आशीर्वाद मांगते हुए कहा, ‘2047 में देश जब स्वतंत्रता के 100 साल का जश्न मनाए तो हमारे देश का तिरंगा दुनिया में विकसित देश की पहचान के साथ लहराए। इसके लिए आने वाले 5 साल को उन्होंने महत्वपूर्ण बताया और दावा किया कि लाल किले पर 2024 में वे ही तिरंगा फहराएंगे।’

🔹मणिपुर का दो बार किया जिक्र 

मोदी ने देशवासियों को 3 गारंटी भी दीं। पहली- 5 साल में भारत को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी आर्थिक शक्ति बनेगा। दूसरी- शहरों में किराए के मकानों में रहने वालों को बैंक लोन में रियायत मिलेगी। तीसरी- देशभर में 25 हजार जन औषधि केंद्र खोले जाएंगे। 17 सितंबर को विश्वकर्मा योजना शुरू करने का ऐलान किया।इसके अलावा PM ने मणिपुर का दो बार जिक्र किया। उन्होंने भाषण के शुरुआत में कहा- मणिपुर में मां-बेटियों के सम्मान के साथ खिलवाड़ हुआ। लोगों की जान गई। कुछ दिनों से लगातार शांति की खबरें आ रही हैं। देश मणिपुर के लोगों के साथ है। शांति के प्रयास किए जा रहे हैं।मोदी इस बार ऑफ-व्हाइट कुर्ता और काले रंग की जैकेट में नजर आए। उन्होंने जोधपुरी बांधनी प्रिंट साफा पहना। जिसमें पीला, हरा और लाल रंग था।

🔹पीएम मोदी द्वारा कही गई कुछ बाते 

प्राकृतिक आपदा में जान गंवाने वालों को याद किया: PM ने कहा- इस बार प्राकृतिक आपदा ने देश के अनेक हिस्सों में अकल्पनीय संकट पैदा किए। जिन परिवारों ने इस संकट को सहन किया है मैं उन सभी परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं। राज्य-केंद्र सरकार मिलकर उन सभी संकटों से मुक्त होकर तेजी से विकास की ओर आगे बढेंगे, ये विश्वास दिलाता हूं।

🔹देश मणिपुर के लोगों के साथ है

PM ने कहा- पूर्वोत्तर में, विशेषकर मणिपुर में, जो हिंसा का दौर चला, कई लोगों को अपना जीवन खोना पड़ा, मां-बेटियों के सम्मान के साथ खिलवाड़ हुआ, लेकिन कुछ दिनों से लगातार शांति की खबरें आ रही हैं। देश मणिपुर के लोगों के साथ है, मणिपुर के लोगों ने कुछ दिनों से जो शांति बनाए रखी है, उसको आगे बढ़ाएं। शांति से ही समाधान का रास्ता निकलेगा। केंद्र और राज्य की सरकार मिलकर उन समस्याओं के समाधान के लिए भरपूर प्रयास कर रही है और करती रहेंगी।

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :एसएसपी अल्मोड़ा ने जनपद के अधीनस्थ पुलिस अधिकारियों के साथ आयोजित की क्राईम मीटिंग,सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिये अधीनस्थों के साथ किया मंथन,दिये आवश्यक दिशा-निर्देश

🔹महंगाई कम करने के प्रयास जारी रहेंगे

पीएम ने कहा-​​​​​​​ जब इनकम टैक्स में छूट बढ़ती है, तो सबसे ज्यादा लाभ सैलरी क्लास को होता है। मेरे परिवारजनों विश्व कोरोना के बाद उभर नहीं पाया है। युद्ध ने नई मुसीबत पैदा की है। दुनिया महंगाई के संकट से जूझ रही है। हम भी दुनिया से सामान लाते हैं, हमारा दुर्भाग्य है कि महंगाई इंपोर्ट करनी पड़ती है। भारत ने महंगाई पर नियंत्रित रखने के लिए कई प्रयास किए हैं। हमें सफलता भी मिली है। दुनिया से अच्छी स्थिति हमारे लिए है, यह सोचकर हम बैठ नहीं सकते। हमारा लक्ष्य देश को महंगाई से छुटकारा दिलाना है। इसके लिए हमारे प्रयास जारी रहेंगे।

🔹मेरा सपना गांवों में 2 करोड़ ‘लखपति दीदी’ बनाने का

भारत की एकता को जीना, भारत की एकता को आंच आए न ऐसी मेरी भाषा होगा न मेरा ऐसा कदम होगा, इस सोच से आगे बढ़ना है। हम सबको एकता के भाव के साथ आगे बढ़ना है। हमें हमारे देश को विकसित देश के रूप में देखना है, तो श्रेष्ठ भारत को जीना होगा। हमारे शब्द की ताकत होगी तो श्रेष्ठ होगी। हमारे फैसला लेने की क्षमता होगी, तो श्रेष्ठ होगी। आज भारत गर्व से कह सकता है कि सबसे ज्यादा महिला पायलट कहीं हैं, तो भारत में हैं। 2 करोड़ लखपति दीदी का लक्ष्य लेकर हम काम कर रहे हैं। हम नारी शक्ति को बढ़ावा देने पर काम कर रहे हैं।

🔹गरीब और मिडिल क्लास के लिए

कमजोर आय वर्ग (EWS) और निम्न आय वर्ग (LIG) के परिवारों के लिए प्रधानमंत्री ने कहा- जब इनकम टैक्स में छूट बढ़ती है, तो सबसे ज्यादा लाभ सैलरी क्लास को होता है। PM ने कहा कि जल्द ही केंद्र सरकार एक योजना लाने वाली है, जिसमें मिडिल क्लास के लोगों को शहरों में घर मिल सकेगा। इनमें वैसे लोग होंगे जो दूसरे शहरों में किराए के मकान में रह रहे हैं।केंद्र सरकार ने 2015 में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) लॉन्च की थी। 31 जुलाई 2023 तक इस योजना के तहत 1.18 करोड़ घरों की मंजूरी दी जा चुकी है। 76 लाख से ज्यादा परिवारों को सस्ती कीमत पर घर दिया जा चुका है।

यह भी पढ़ें 👉  देश विदेश की ताजा खबरें रविवार 14 जुलाई 2024

🔹कामगारों के लिए

प्रधानमंत्री ने 17 सितंबर को कामगारों के लिए विश्वकर्मा योजना लाने की घोषणा की। PM ने कहा- मुद्रा योजना से 20 लाख करोड़ रुपए की रकम युवाओं को अपने कारोबार शुरू करने के लिए दिए गए हैं। इस योजना के जरिए आठ करोड़ लोगों ने अपना कारोबार शुरू किया है और हर कारोबार ने 1-2 लोगों को रोजगार दिया है।पीएम स्वनिधि से रेहड़ी पटरी वालों को फायदा पहुंचा।मोदी ने कहा कि आने वाले समय में विश्वकर्मा जयंती पर हम 13-15 हजार करोड़ रुपए से नई ताकत देने के लिए हम आने वाले महीने में ‘विश्वकर्मा योजना’ की शुरुआत करेंगे। सरकार इस योजना के जरिए पारंपरिक कौशल वाले लोगों को मदद पहुंचाएगी। इसमें सुनार, लोहार, नाई और चर्मकार जैसे पारंपरिक कौशल वाले लोगों को शामिल किया जाएगा और उन तक सहायता पहुंचाई जाएगी।

🔹किसान और महिलाओं के लिए

पीएम ने आगे कहा- आज भारत गर्व से कह सकता है कि सबसे ज्यादा महिला पायलट कहीं हैं, तो भारत में हैं। बैंकों से लेकर आंगनबाड़ियों तक, ऐसा कोई मंच नहीं है जिसमें महिलाएं योगदान न दे रही हों। अब मेरा सपना गांवों में 2 करोड़ लखपति दीदी बनाने का है।इसके लिए हमने एक नई योजना शुरू करने का फैसला किया है जिसमें 15 हजार महिला एसएचजी को ड्रोन चलाने और मरम्मत करने की ट्रेनिंग दी जाएगी। यह ग्रामीण महिलाओं को सशक्त बनाएगा और देश के कृषि-तकनीक क्षेत्र को मजबूत करेगा।

🔹युवाओं के लिए

पीएम ने कहा कि यह कालखंड भारत का भाग्य लिखने वाला है। मैं आज नौजवानों से कहना चाहूंगा कि जो सौभाग्य हमारे युवाओं को मिला, वह शायद ही किसी को नसीब हुआ हो। युवा शक्ति में मेरा भरोसा है। हमारी नीतियां और रीतियां भी उस युवा सामर्थ्य को और बदल देने वाली हैं। हमारे देश के युवाओं ने दुनिया के पहले 3 स्टार्टअप इकोसिस्टम में भारत को स्थान दिला दिया है। आज भारत के इस सामर्थ्य को देखकर विश्व के युवाओं को आश्चर्य हो रहा है।