Nainital News :हल्द्वानी में खनन कारोबारियों ने सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन,खनन रॉयल्टी और वाहन फिटनेस नीजी हाथों पर देने पर जताया आक्रोश

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी में खनन कारोबारियों ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. कारोबारियों का कहना है कि तीन महीने बाद भी नदी से खनन का कार्य शुरू नहीं हो पाया है.

इसके अलावा सरकार ने खनन रॉयल्टी और वाहन फिटनेस निजी हाथों में दे दिया है. इससे खनन कारोबारियों पर आर्थिक बोझ पड़ेगा.

💠हल्द्वानी में सड़कों पर उतरे खनन कारोबारी.

हल्द्वानीः खनन रॉयल्टी और गाड़ियों के फिटनेस निजी हाथों में देने के विरोध में हल्द्वानी में खनन कारोबारियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. सोमवार को भारी संख्या में खनन कारोबारी हल्द्वानी के बुधपार्क पर एकत्रित हुए. जहां बुधपार्क से लेकर एसडीएम कोर्ट तक खनन कारोबारियों ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए जुलूस निकाला है.

सड़कों पर प्रदर्शन करते हुए खनन कारोबारियों ने कहा कि 3 महीने बाद भी गौला नदी पर खनन का कार्य शुरू नहीं हो पाया है. ऊपर से सरकार ने अब गौला नदी से निकलने वाले खनन रॉयल्टी को निजी हाथों में दे दिया है. जिसके चलते उनके कारोबार पर संकट खड़ा हो जाएगा. खनन कारोबारियों का कहना है कि पूर्व में सरकारी एजेंसी के माध्यम से नदियों से खनन कार्य होता रहा है. लेकिन सरकार ने अब खनन रॉयल्टी को निजी हाथों में दे दिया है. जहां खनन शुरू होते ही निजी कंपनी की अपनी मनमानी चलेगी. इसके अलावा फिटनेस को भी निजी हाथों में दे दिया है. जिसके चलते अब वाहन स्वामी के ऊपर आर्थिक बोझ पड़ रहा है.

यह भी पढ़ें 👉  देश विदेश की ताजा खबरे मंगलवार 27 फरवरी 2024

खनन कारोबारियों ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए कहा कि पूर्व की भांति नदियों से खनन कराया जाए. साथ ही फिटनेस को भी परिवहन विभाग द्वारा किया जाए. खनन कारोबारी ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांगे पूरी नहीं हुई तो खनन कारोबारी आमरण अनशन करेंगे. जिसकी पूरी जिम्मेदारी सरकार की होगी.

यह भी पढ़ें 👉  Almora News :49,280 बच्चों को पिलाई जाएगी पोलियो ड्रॉप

गौरतलब है कि अक्टूबर माह में नदी से खनन कार्य शुरू हो जाता है. लेकिन 3 माह बाद भी नदियों से खनन कार्य शुरू नहीं हो पा रहा है. खनन कारोबारी अपनी मांगों को लेकर पिछले तीन माह से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. लेकिन खनन कारोबारी की मांगे अभी तक पूरी नहीं हो पाई है. ऐसे में खनन कारोबारी ने सरकार के खिलाफ अब मोर्चा खोल दिया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *