Almora News :अस्पताल तक सड़क न पहुंचने पर 10 गांवों के ग्रामीणों ने किया चुनाव बहिष्कार का एलान

ख़बर शेयर करें -

अस्पताल तक सड़क न पहुंचने पर 10 गांवों के ग्रामीणों ने किया चुनाव बहिष्कार हवालबाग ब्लॉक के 10 से अधिक गांवों की 5000 की आबादी को उपचार मुहैया कराने वाले भाटनयालज्युला अस्पताल को जोड़ने के लिए सड़क नहीं बनी तो ग्रामीणों का हौसला जवाब दे गया।

उन्होंने बैठक कर सड़क निर्माण न होने पर लोकसभा चुनाव के बहिष्कार का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि एक किमी सड़क न बनने से उन्हें मरीजों, गर्भवतियों को अस्पताल पहुंचाने के लिए 10 किमी यानी 10 गुना फेरा लगाना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :यहा बाइक से निकले दो युवक दो दिन से थे लापता,दोनों बाइक समेत गहरी खाई में मिले,एक की मौत,दूसरा गंभीर रूप से घायल

भाटनयालज्युला अस्पताल पोखरी, नौटानी, पनोला, सनियाकोट, तिलोरा, ग्वालाकोट, ज्युला, भागतोला, दाड़िमखोला, सकार आदि गांवों के उपचार का मुख्य केंद्र है। ग्रामीणों का कहना है कि यदि अल्मोड़ा-कौसानी हाईवे से अस्पताल तक सिर्फ एक किमी सड़क का निर्माण होता तो उन्हें यहां पहुंचने के लिए लंबा सफर तय नहीं करना पड़ता। लंबे समय से वे सड़क निर्माण की मांग कर रहे हैं, लेकिन उनकी नहीं सुनी जा रही है। 

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand News :केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह आज कोटद्वार में करेंगे चुनावी जनसभा को संबोधित,मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी रहेंगे मौजूद

💠ग्रामीणों ने भाटनयालज्युला विकास समिति के बैनर तले बैठक की। 

उन्होंने कहा कि वे अब सड़क के लिए आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे। वहां पर सुंदर सिंह नयाल, जगदीश भट्ट, हरीश कांडपाल, रणजीत सिंह, गोपाल सिंह, बसंत बल्लभ पांडे, प्रधान दीपा पांडे, मीनाक्षी नयाल आदि थीं।

कोट-सड़क निर्माण की कार्रवाई शुरू कर दी है। समरेखण तैयार कर इसे स्वीकृति के लिए भेजा गया है। स्वीकृति मिलते ही आगे की कार्रवाई शुरू होगी।-गणेश जोशी, जेई, लोनिवि, अल्मोड़ा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *